सावधान! राम मंदिर के नाम पर काटी जा रही चंदे की रसीद, झांसे में आकर आप भी न कर बैठे दान

Highlights

-विहिप कार्यकर्ताओं की मदद से पुलिस ने किया गिरफ्तार

-आरोपी के खिलाफ धोखा धड़ी का मुकदमा दर्ज

-पुलिस को बाकी साथियों की तलाश

By: Rahul Chauhan

Published: 05 Sep 2020, 01:11 PM IST

मेरठ। जागृति विहार में विश्व हिन्दू परिषद के नाम से फर्जी आफिस खोलकर श्रीराम मंदिर के नाम पर चंदा लेकर फर्जी रसीद काटने वाले व्यक्ति को विहिप कार्यकर्ताओं की मदद से पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस को अब इसके बाकी साथियों की तलाश है। बताते हैं कि श्रीराम मंदिर के नाम पर फर्जी तरीके से आसपास के इलाके में काफी फर्जी रसीदें काटी हैं।

विहिप महानगर संयोजक अर्जुन राठी के अनुसार मुजफ्फरनगर के कुशावली गांव निवासी नरेंद्र राणा ने जागृति विहार में विश्व हिंदू परिषद के नाम से फर्जी कार्यालय खोल रखा था। उसके साथ श्यामनगर निवासी समीर ताज और ब्रह्मपुरी निवासी अनुज माहेश्वरी भी काम कर रहे थे।

उन्होंने जिटौली गांव के चामुंडेश्वर महादेव शिव मंदिर से एनाउंसमेंट कराया था, जिसके तहत शुक्रवार को श्रीराम मंदिर के नाम पर पर्ची काटे जाने की जानकारी दी गई थी। इसके बाद पुजारी ने उनसे संपर्क किया तो पता चला कि मामला फर्जी है। वह परिषद के अन्य सदस्यों के साथ जागृति विहार में नरेंद्र राणा के कार्यालय पर पहुंचे तो फर्जीवाड़े का पता चला। इसके बाद विहिप कार्यकर्ताओं ने उसे पकड़कर मेडिकल पुलिस को सौंप दिया।

सीओ सिविल लाइन पूनम सिरोही का कहना है कि आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। उसके साथियों की गिरफ्तारी भी जल्दी की जाएगी।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned