यहां कोरोना संक्रमितों को दी जा रही गायत्री मंत्र थैरेपी, 50 फीसदी मरीज हुए स्वस्थ

Highlights

- 50 फीसदी मरीजों ने दी कोरोना को मात, अभी तक कोई जन हानि नहीं
- अस्पताल में प्रतिदिन मरीज शाम को करते हैं गायत्री मंत्र का जाप
- दवा के अलावा गायत्री मंत्र थैरेपी से हो रहा कोरोना मरीजों का उपचार

By: lokesh verma

Published: 24 Aug 2020, 12:07 PM IST

केपी त्रिपाठी/मेरठ. कोरोना संक्रमण को हराने के लिए कोविड वार्ड में भर्ती मरीज क्या-क्या नहीं कर रहे हैं। कोई योग का सहारा लेता है तो कोई कोरोना की लड़ाई जीतने के लिए काढा पीता है। लेकिन, मेरठ के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती मरीजों को गायत्री मंत्र थैरेपी दी जा रही है। गायत्री मंत्र थैरेपी के माध्यम से इस अस्पताल में भर्ती करीब 50 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। जबकि अभी 50 मरीज और भर्ती है। ये सभी मरीज शाम को एक निश्चित समय पर अपने कमरे से बाहर आकर गायत्री मंत्र का जाप करते हैं। यह जाप करीब 10 मिनट तक चलता है।

यह भी पढ़ें- BJP विधायक के भतीजे को दबंगई दिखाना पड़ा भारी, लॉकडाउन में डेयरी खोली तो पुलिस ने खिलाई हवालात हवा

अस्पताल की डायरेक्टर मानसी आनंद बताती हैं कि उनके यहां मरीजों को दवा के अलावा गायत्री मंत्र थैरेपी भी दी जाती है। यह उनके अस्पताल में अभी तक नया अभिनव प्रयोग है। जबसे अस्पताल में कोविड वार्ड बनाया गया है। तब से ही प्रतिदिन शाम को मरीजों द्वारा गायत्री मंत्र का जाप करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि अभी तक यहां एक भी कोरोना मरीज की मौत नहीं हुई है। सभी लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि मरीज अपने आप शाम को अपने कमरे के बाहर खड़े हो जाते हैं और सभी लोग एक सुर में गायत्री मंत्र का जाप करते हैं। इससे नकारात्मकता समाप्त होती है।

डाॅ. तुंगवीर आर्य बताते हैं कि गायत्री मंत्र का जाप वातावरण में न्यूनतम ध्वनि में करने से आसपास और शरीर के भीतर से नकारात्मकता अपने आप समाप्त हो जाती है। गायत्री मंत्र के उच्चारण से हम अपने घर और आसपास के वातवरण में प्राकृतिक वाइब्रेशन को बैलेंस कर सकते हैं। इसलिए गायत्री मंत्र सकारात्मकता फैलाता है। सूर्य हम सभी के लिए जीवन का स्रोत है, इसके बिना हम कोई रास्ता नहीं खोज पाएंगे। तो इस मुश्किल और परेशान करने वाले वक्‍त में रोजाना गायत्री मंत्र का जाप करें और आत्मिक शक्तिपाएं। जान लेने वाले कोरोना वायरस को मिटाने वह खुद और अपने परिवारीजनों की रक्षा के लिए शिव से प्रार्थना कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- सेना के जवान को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई, मंत्री समेत डीएम और एसएसपी भी पहुंचे

coronavirus
Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned