थाने में हेड कांस्टेबल ने फांसी लगाकर किया सुसाइड, पुलिसकर्मियों में मचा हड़कंप

Highlights

- थाना परिसर में फंदेे पर लटका मिला हेड कांस्टेबल
- पुलिस को मौके से नहीं मिला कोई सुसाइट नोट
- जांच के लिए अधिकारी पहुंचे मौके पर

By: lokesh verma

Published: 02 Sep 2020, 10:44 AM IST

मेरठ. अवसाद से गुजर रही खाकी के एक और पहरेदार ने थाना परिसर में फांसी लगाकर आत्महत्या का ली है। घटना मंगलवार देर रात की है। थाना ब्रह्मपुरी के एक हेड कांस्टेबल ने थाना परिसर में बने क्वार्टर में ही फांसी लगाकर जान दे दी। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। आत्महत्या का कारणों का भी अभी कुछ पता नहीं चल पाया है। घटना से थाना परिसर में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में अधिकारी मौके पर पहुंचे और शव को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

यह भी पढ़ें- यूपी के बुलंदशहर में मनचलों से परेशान छात्रा ने की आत्महत्या

पुलिस के अनुसार, सहारनपुर निवासी मांगेराम (50) ब्रह्मपुरी थाने में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात थे और थाना परिसर के क्वार्टर में रहते थे। उनके पास मालखाने का चार्ज था। मंगलवार शाम करीब पांच बजे मांगेराम अपने परिजनों से फोन पर बातचीत कर क्वार्टर में चले गए थे। उनके साथ रहने वाला सिपाही अजय रात करीब नौ बजे ड्यूटी खत्म कर क्वार्टर पर पहुंचा तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था।

अजय ने मांगेराम को कई आवाज दीं, कॉल भी की, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। अजय ने अनहोनी की आशंका से दरवाजा तोड़ दिया। अंदर छत के पंखे के हुक पर मांगेराम का शव लटका मिला। अजय का शोर सुनकर थाने का स्टाफ कमरे पर पहुंच गया।

सूचना पर एसपी सिटी डॉ. अखिलेश नारायण सिंह भी थाने पहुंच गए। फोरेंसिक टीम ने भी जांच की। एसपी सिटी ने बताया कि आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है। बताया जाता है कि मांगेराम का इलाज भी चल रहा था। उनकी जेब से एक चिकित्सक का पर्चा भी निकला है, जिसकी जांच की जा रही है। मृतक के परिजन भी मेरठ पहुंच चुके हैं।

यह भी पढ़ें- यूपी: हिदायत देकर पंचायत ने निपटा दिया दुष्कर्म का मामला

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned