scriptInflation in Meerut increased on the price of rice, flour and pulses | Inflation In Meerut : आटा और चावल पर महंगाई की मार,नमक—चीनी के बढ़े इतने दाम | Patrika News

Inflation In Meerut : आटा और चावल पर महंगाई की मार,नमक—चीनी के बढ़े इतने दाम

Inflation In Meerut महंगाई की मार अब आटा और चावल पर भी पड़ी है। वहीं चीनी के दाम में भी बढ़ोत्तरी हुई है। इससे आम आदमी की रसोई पर असर पड़ा है। घरेलू एलपीजी के दाम पहले ही बढ़ गए। अब आटा महंगा हो गया और चावल के दाम बढ़ गए हैं। चावल पर जहां 500—600 रुपये प्रति क्विटल का उछाल आया है। वहीं आटे पर भी 5—6 रुपये प्रति किग्रा तक बढ़े है।

मेरठ

Published: March 26, 2022 09:16:54 am

Inflation In Meerut आटे और चावल भी महंगाई की मार पड़ी है। पिछले दो दिन में आटा 5—6 रुपये प्रति किग्रा तक बढ़ गया है। इससे गरीब की रोटी पर महंगाई की मार पड़ रही है। हालांकि जानकार इसको रूस और यूक्रेन के युद्ध से भी जोड़कर देख रहे हैं। लेकिन ये हकीकत है कि इस युद्ध के कारण दुनिया भर में महंगाई तेजी से बढ़ती जा रही है। दुनिया के बाजार में आने वाले गेहूं में 29 प्रतिशत और मक्के में 19 प्रतिशत की हिस्सेदारी यूक्रेन और रूस की है। युद्ध के चलते दोनों देशों से विश्व भर में होने वाला निर्यात भी प्रभावित हुआ है। इसके कारण गेहूं महंगा होने लगा है। नतीजतन गेहूं से बनने वाली रोटी भी महंगी हुई है।
गेहूं महंगे होने से आटा भी 6 रुपए प्रति किलोग्राम तक महंगा हो गया है। इतना ही नहीं अन्य चीजें भी महंगी हुई है। व्यापारियों का कहना है कि इस समय हर चीज पर प्रतिदिन दाम बढ़ रहे हैं। चावल पर तो 500—600 रुपये प्रति बोरी का उछाल आया है। वहीं चीनी भी 100—150 रुपये प्रति क्विंटल महंगी हुई है। दाल पर भी काफी दाम बढ़े है। मसालों पर भी महंगाई की मार पड़ी है।
Inflation In Meerut : आटा और चावल पर महंगाई की मार, दाल नमक और चीनी के भी बढ़े दाम
Inflation In Meerut : आटा और चावल पर महंगाई की मार, दाल नमक और चीनी के भी बढ़े दाम

इन दिनों साधारण चावल 40—50 रुपये प्रति किलोग्राम बिक रहा है। ऐसे ही बासमती की कीमत 70 रुपये से लेकर 110 रुपये प्रति किलोग्राम है। कारोबारी कहते हैं कि स्टॉक का चावल इसलिए भी महंगा बिकता है, क्योंकि स्टॉक में रखे-रखे चावल का वजन दो फीसद तक घट जाता है। जबकि इस चावल का सप्ताह पहले तक भाव पांच रुपए प्रति किलो कम था। दुकानदारों की मानें तो आने वाले दिनों में रेट और भी बढ़ने के आसार हैं। सितंबर अक्टूबर में चावल की नई फसल जाएगी। इसके बाद चावल के दाम घट सकते हैं। फिलहाल बाजार में स्टॉक का पुराना चावल है।
यह भी पढ़े : UP Madrasa Board : योगी सरकार ने मदरसों में राष्ट्रगान गायन किया अनिवार्य,छात्र—शिक्षक गाएंगे जन गण मन

पिछले कुछ दिनों में 15 से 20 प्रतिशत तक दाम बढ़े हैं। चावल व्यापारी प्रदीप बंसल ने कहा कि स्टॉक का चावल अगर बाजार में ज्यादा बचा होगा तो नई फसल आने तक दाम घट सकते हैं। पुराना चावल स्वादिष्ट होने से लोग ज्यादा पंसद करते हैं। यह अच्छी तरह से पकता भी है। वहीं नमक पर भी भाव बढ़ गए हैं। दालों की बात करें तो अरहर, मूंग और उड़द की दालों के दामों में बढ़ोतरी हुई है। मूंग की दाल 90 रुपये किलो हो गई है। इसमें पांच रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी हुई है। अरहर के दाम 100 रुपये किलो के ऊपर पहुंच गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

आय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दलंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेसThailand Open 2022: सेमीफाइनल मुक़ाबले में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट से हारीं सिंधु, टूर्नामेंट से हुई बाहरRajiv Gandhi 31st Death Anniversary: अधीर रंजन ने ये क्या कह दिया, Tweet डिलीट कर देनी पड़ रही सफाई, FIR तक पहुंची बातपाकिस्तान पुलिस ने पूर्व पीएम इमरान खान के आवास पर की छापेमारीभीषण गर्मी : देश में 140 में से 60 बड़े बांधों का पानी घटा, राजस्थान के भी तीन बांधNCP प्रमुख शरद पवार आज पुणे में ब्राह्मण समुदाय के नेताओं से क्यों मिल रहे हैं?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.