मेरठ के पाॅश इलाके में लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने सर्राफ के पुत्र को मारी गोली, मचा हड़कंप

एक ही थाना क्षेत्र में पखवाड़े के भीतर गोली मारने की दूसरी बड़ी वारदात

By: sanjay sharma

Updated: 03 Mar 2019, 07:46 PM IST

मेरठ। भाजपा राज में मेरठ जिले में अपराधों की बाढ़ सी आ गई है। बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने का दावा करने वाली भाजपा सरकार के दावे की पोल मेट्रो सिटी मेरठ में खुल रही है। यहां पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ वारदातें हो रही हैं और पुलिस महकमे के थानेदार अपनी कुर्सी बचाने के लिए भाजपा विधायकों और नेताओं के चक्कर काट रहे हैं। मेरठ के थाना नौचंदी में पिछले एक पखवाड़े में लूट की दूसरी बड़ी वारदात है। रविवार को दिनदहाड़े थाना नौचंदी अंतर्गत शास्त्रीनगर में बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम देने की कोशिश की।

यह भी पढ़ेंः बदमाशों ने मेकअप आर्टिस्ट से पहले बनवाया सरदार का हुलिया, फिर यूपी के इस शहर की सबसे बड़ी लूट को दिया अंजाम, देखें वीडियो

ज्वैलर्स की दुकान में घुसे हथियार बंद बदमाशों ने सर्राफ को गन प्वांइट पर लिया, लेकिन इससे पहले ही सर्राफ ने इमरजेंसी बेल बजा दी। जिससे घर के भीतर से बाकी परिवार के लोग निकल आए। इसमें सर्राफ का बेटा भी था। उसने बदमाशों का सामना करने की कोशिश की तो दुस्साहसी बदमाशों ने सर्राफ के बेटे को गोली मारी और फरार हो गए। घटना के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस सीसीटीवी को कब्जे में लेते हुए जांच में जुटी है। नौचंदी थानांतर्गत शास्त्रीनगर के सेक्टर पांच में मकबरे के पास ही सर्राफ देवेंद्र वर्मा का घर है। उसने अपने घर के बाहरी हिस्से में देवम ज्वेलर्स के नाम से दुकान खोली हुई है। देवेंद्र के अनुसार आज दोपहर करीब 12 बजे वह दुकान पर बैठे थे। इसी दौरान एक बाइक पर सवार तीन बदमाश और उनका एक अन्य साथी दुकान में दाखिल हो गए।

यह भी पढ़ेंः सीआरपीएफ के सिपाही पर दुष्कर्म का आरोप, पीड़िता ने आत्मदाह की चेतावनी दी, जांच के आदेश

दुकान में दाखिल होते ही बदमाशों ने देवेंद्र पर पिस्टल तान दी और जान से मारने की धमकी देते हुए उनसे लॉकर की चाबी ले ली। बदमाश लॉकर खोल ही रहे थे कि मौका पाकर देवेंद्र ने दुकान में लगी इमरजेंसी बेल को दबा दिया। घंटी की आवाज सुनकर घर में मौजूद सदस्य दुकान की तरफ दौड़े। देवेंद्र के पुत्र अमित ने बदमाशों का सामना किया। इससे बदमाशों के हौसले पस्त हो गए। वे लूट का माल छोड़कर खुद को बचाने में लग गए। बदमाशों ने अमित को गोली मार दी। गोली अमित के गले के ऊपरी हिस्से में लगी। गोली की आवाज सुनकर क्षेत्र के लोगों ने बदमाशों पर पथराव कर दिया। जिसके बाद खुद को घिरता देख बदमाश हवाई फायरिंग करते हुए मौके से फरार हो गए।

कई थानों का फोर्स और आलाधिकारी मौके पर

घटना के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने आनन फानन में घायल अमित को अस्पताल में भर्ती कराया। गले के पास गोली लगने के कारण अमित को नई सड़क स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर उसका आपरेशन चल रहा है। घटना की जानकारी के बाद एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह और सीओ सिविल लाइन अखिलेश भदौरिया सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। मौके पर पहुंचे व्यापारी नेताओं ने पुलिस अधिकारियों से घटना पर रोष प्रकट किया। पुलिस ने दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज कब्जे में ली है। फुटेज में बदमाश साफ नजर आ रहे हैं। अधिकारियों ने घटना के शीघ्र खुलासे का दावा किया है। घटना को लेकर क्षेत्र के व्यापारियों में रोष है।

यह भी पढ़ेंः फौजी की पत्नी से लड़ी 'पंडित जी' की आंख तो कर बैठे ये खौफनाक काम, देखें वीडियाे

लूट आैर फांसी पर लटकाने का मामल नहीं खुला

बताते चलें कि घटनास्थल से मात्र 200 मीटर की दूरी पर कुछ दिन पूर्व बदमाशों ने एक व्यापारी के घर में दो लाख की लूट की थी। व्यापारी के पुत्र को फांसी पर लटका बदमाश मौके से फरार हो गए थे। इस घटना का भी पुलिस अब तक खुलासा नहीं कर सकी है। वहीं ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम देते हुए बदमाशों ने एक और घटना करके पुलिस को खुली चुनौती दी है।

 

sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned