किसान से 20 हजार रुपये रिश्वत लेते कानूनगो को एंटीकरप्शन टीम ने किया गिरफ्तार

  • रुपये लेते वक्त एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथों पकड़ा
  • जमीन की माप पहले कम की फिर बढाने के नाम पर मांगे रुपये
  • कानूनगो को हिरासत में लेकर थाने पहुंची पुलिस

By: shivmani tyagi

Updated: 05 Sep 2020, 02:12 PM IST

मेरठ ( Meerut ) पहले जमीन की माप कम की और उसके बाद उसी माप को पूरी करने के लिए एक कानूनगो ने किसान से 20 हजार की रिश्वत मांग ली। रिश्वत नहीं देने पर 510 वर्ग मीटर खेती की जमीन कम करने की धमकी दी। किसान ने कानूनगो को कोरोना काल और अपनी परेशानी का हवाला दिया लेकिन वह 20 हजार की रिश्वत पर अड़ा रहा। किसान ने कानूनगो की शिकायत एंटी करप्शन में कर दी।

यह भी पढ़ें: बिजनौर में बछड़ा बांधने को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष

इसके बाद टीम ( Anti Corruption Branch ) ने कानूनगो को शुक्रवार देर शाम किसान से रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया। रिश्वत लेने के लिए कानूनगो ने किसान को पल्लवपुरम स्थित चकबंदी कार्यालय में बुलाया था। जहां पर एंटी करेप्शन की टीम भी पहुंच गई और कानूनगो को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके बाद टीम कानूनगो को हिरासत में लेकर थाने पहुंची। जहां टीम कानूनगो से पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें: सावधान! राम मंदिर के नाम पर काटी जा रही चंदे की रसीद, झांसे में आकर आप भी न कर बैठे दान

फलावदा थाना क्षेत्र के गांव गड़ीना निवासी नरेंद्र कुमार ने बताया कि उसके पास 50 बीघा जमीन है। चकबंदी के लिए उसके खेतों की पेमाइश की गई थी। मूल जोत 883 में कानूनगो राजेश ने 510 वर्ग मीटर जमीन कम कर दी। जमीन पूरी करने के लिए उन्होंने कानूनगो से कहा तो कानूनगो ने उससे बीस हजार रुपये की रिश्वत मांगी। दस हजार रुपये पहले व दस हजार रुपये बाद में देने के लिए कहा गया।

यह भी पढ़ें: चौतरफा घिरे आजम: अब योगी सरकार ने दिए गाजियाबाद और लखनऊ हज हाउस के निर्माण की जांच के आदेश

शुक्रवार को कानूनगो ने किसान को रुपये लेकर पल्लवपुरम बुलाया। जहां किसान की शिकायत पर पहले से ही एंटी करप्शन की टीम मौजूद थी। जैसे ही किसान ने कानूनगो को रुपये दिए तो एंटी करप्शन की टीम ने कानूनगो को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद टीम ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। टीम पुलिस के साथ कानूनगो को थाने ले आई। जहां टीम कानूनगो से पूछताछ कर रही है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned