प्यार के बाद एक प्रेमी युगल ने आर्यसमाज मंदिर में रचा ली शादी, इसके बाद युवती लड़के पर बनाने लगी धर्म परिवर्तन का दबाव

प्यार के बाद एक प्रेमी युगल ने आर्यसमाज मंदिर में रचा ली शादी, इसके बाद युवती लड़के पर बनाने लगी धर्म परिवर्तन का दबाव

Iftekhar Ahmed | Publish: Sep, 12 2018 03:56:24 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

लड़के ने युवती पर लगाया अपनी पहचान छुपाने का आरोप, कार्रवाई की मांग

मेरठ. अभी तक आपने युवकों को ही युवतियों को फंसाने की घटनाएं समाचार पत्रों में पढ़ी होगी, लेकिन मेरठ की ये युवती तो युवकों से भी दस कदम आगे निकल गई। एक युवक को अपने जाल में ऐसा फंसाया कि बेचारा अब उससे बचने के लिए न्याय पाने के लिए भटक रहा है। दरअसल, एक टेंपो चालक को प्रेम जाल में फंसाने के बाद युवती ने धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया। युवक का आरोप है कि पहले तो युवती ने अपनी पहचान छिपाकर हिंदू रीति रिवाज से आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली, लेकिन अब वह और उसके परिवार वाले ईसाई धर्म अपनाने पर अड़े हुए हैं।

यह भी पड़ें- यहां पहुंची पुलिस तो ऐसी हालत में मिले युवक-युवतियां कि पुलिस वालों ने बंद कर ली आंखें, देखें वीडियो

टेंपो में हुई मुलाकात के बाद कर बैठा शादी
गंगानगर थाना क्षेत्र के आजाद नगर कसेरूखेड़ा मोहल्ला निवासी विक्रम सिंह पुत्र जयपाल सिंह टेंपो चालक है। उसने बताया कि वह हिंदू ठाकुर बिरादरी से है। करीब एक वर्ष पूर्व टेंपो में उसकी जान-पहचान एक युवती से हो गई। बकौल विक्रम युवती ने अपने आपको वाल्मीकि समाज से बताया। विक्रम सिंह का दावा है कि प्रेम प्रसंग के बाद दोनों ने स्वेच्छा से नोएडा के एक आर्य समाज मंदिर में 19 फरवरी को हिंदू रीति रिवाज से शादी कर ली। विक्रम का आरोप है कि शादी के बाद युवती के सुर बदल गए। उसने अपने आपको ईसाई बताकर धर्म परिवर्तन करने के लिए दबाव बनाया और फिर से चर्च में जाकर शादी करने की बात कही। आरोप है कि युवती कई बार मंदिर बताकर धोखे से विक्रम को चर्च ले गई और जबरन शादी करने का दबाव बनाया। चार दिन पूर्व युवती के परिवार वालों ने धोखे से घर बुलाकर मारपीट की और धमकाया कि यदि धर्म परिवर्तन नहीं किया तो वह युवती को साथ में नहीं भेजेंगे।

यह भी पढ़ें- दुल्हन के वॉट्सएप में छुपे थे राज खुलते ही दूल्हे ने बारात लाने से कर दिया इनकार

गोमांस खिलाने का दबाव
विक्रम सिंह ने आरोप लगाया कि करीब सप्ताह भर पूर्व युवती ने अपने घर बुलाकर बातचीत करने के लिए कहा। आरोप है कि जब विक्रम युवती के घर पहुंचा तो उसके परिवार वालों ने धोखे से उसे प्लेट में गोमांस लाकर खाने के लिए कहा। ईसाई धर्म परिवर्तन करने के लिए उन्होंने मकान व नकदी आदि कई प्रकार के प्रलोभन दिए। लेकिन विक्रम किसी तरह वहां से बचकर निकल भागा।

यह भी पढ़ेंः- गैंगरेप की घटना से फिर झुका यूपी का सिर, अपहरण के बाद सामूहिक दुष्कर्म से मचा हाहाकार

पुलिस से की शिकायत
टेंपो चालक विक्रम का कहना है कि उसने पूरे मामले की शिकायत एसएसपी से और बाद बाद में गंगानगर थाने में की। लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई। विक्रम ने युवती के अलावा उसके भाई, बहन, मामा, नानी व तीन अन्य युवकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए तहरीर दी है। आरोप है कि गंगानगर पुलिस ने घर का मामला बताकर मामले को दबाने की बात कही। विक्रम का कहना है कि वह हिंदू धर्म में अटूट आस्था रखता है। वह कोई और धर्म नहीं अपनाएगा। उसने इंसाफ की मांग की है। एसओ गंगानगर का कहना है कि विक्रम नाम का युवक उनके पास शिकायत लेकर आया था। उन्होंने दोनों के परिजनों को बुलाया है। पूरे मामले की जानकारी होने के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी।

Ad Block is Banned