जिस बेटी और पत्नी की एक आवाज सुन हो जाता था निसार, उसी की ले ली जान, जानिये पूरा मामला

Highlights

-रात का खाना टेबल पर उसी तरह से रखा था

-बाप द्वारा लाई गई चाकलेट थी बेटी की मुटठी में

-आखिर ऐसा क्या हुआ कि पत्नी की हत्या कर खुद भी दी जान

By: Rahul Chauhan

Published: 17 Sep 2020, 05:41 PM IST

मेरठ। जिस बेटी और पत्नी की आवाज सुनते ही उनके ऊपर निसार हो जाता था। आज वो बेटी और पत्नी बिस्तर पर पड़े हुए थे और खुद फंदे पर झूल रहा था। कुछ ऐसा नजारा पुलिस को देखने केा मिला होटल मैनेजर के कमरे का। जिसने पहले पत्नी की हत्या की उसके बाद बेटी को जहर खिलाकर मारने की कोशिश की फिर खुद फांसी के फंदे पर झूल गया। मृतक अरविंद कुमार एवरेस्ट होटल में मैनेजर के पद पर कार्यरत था। होटल के कर्मचारियों से पूछताछ में पता चला कि वह आर्मी से रिटायर्ड था। होटल में ही उसका परिवार भी रहता था। जिसमें पत्नी और पांच साल की एक बेटी थी। होटल के कर्मचारियों की माने तो मृतक अरविंद अपनी पत्नी और बच्ची को बहुत चाहता था। दोनों की एक आवाज पर वह भागकर ऊपर कमरे में पहुंच जाता था। मैनेजर द्वारा आत्महत्या की जानकारी जब कर्मचारियों को लगी तो उनकेा भी एक बारगी विश्वास नहीं हुआ। होटल में काम करने वाला चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी समीर ने पुलिस केा बताया कि अरविंद अक्सर अपनी बेटी के लिए चाकलेट और खाने का सामान मंगाता रहता था। समीर के मुताबिक पत्नी भी अगर कुछ मंगाने के लिए कहती थी तो अरविंद उसको लाकर देता था। आत्महत्या क्यों की ये उनकी समझ से परे है।

कमरे में मंगाया था खाना और बेटी के लिए चाकलेट :—

समीर ने बताया कि उसने रात में खाना कमरे में ही मंगाया था। जिस पर वह खुद मैनेजर अरविंद और उसकी पत्नी के लिए खाना दो थाली में खाना लगाकर लेकर गया था। वह अरविंद की बेटी के लिए एक चाकलेट भी ले गया था। खाना उसी तरह टेबिल पर रखा हुआ था। बेटी के हाथ में चाकलेट थी।

खाना रखकर जाने के बाद लगाई होगी फांसी :—

पुलिस का मानना है कि अरविंद ने समीर के खाना रखकर जाने के बाद ही पत्नी को मारा और खुद को फांसी लगाई। कमरे में खाने पीने का अन्य सामान भी मिला है। थाना पुलिस एसओ विजय गुप्ता ने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चल सकेगा। पुलिस ने मौके से सीसीटीवी कैमरे की फुटेज और अन्य चीजों को अपने कब्जे में ले लिया है। मैनेजर के मोबाइल नंबर की काल डिटेल भी खंगाली जा रही है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned