यूपी के इस शहर में गोकशी को लेकर अब तक का सबसे बड़ा फैैसला, अगर एेसा नहीं किया तो पुलिस की खैर नहीं!

गोकशी की कर्इ घटनाआें के बाद सख्ती, तुरंत होगी कार्रवार्इ

By: sanjay sharma

Published: 12 Sep 2018, 07:38 AM IST

मेरठ। मेरठ जनपद में गोकशी की लगातार घटनाएं जनपद में हो रही है। इसे रोकने के लिए शासन से लेकर जिला प्रशासन तक फैसले लिए जाते रहे हैं, लेकिन इस पर लगाम नहीं कस पा रही है। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने कड़ा फैसला लिया है आैर सख्त हिदायत दी है कि अगर गोकशी नहीं रोकी गर्इ तो उनकी खैर नहीं है। इससे पुलिस में अफरातफरी मच गर्इ है।

यह भी पढ़ेंः किराए के लिए मकान दिखाने के बहाने दरोगा की पत्नी से दुष्कर्म

गोकशी नहीं रुकी तो नपेंगे थानेदार

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कानून एवं शांति व्यवस्था की मासिक समीक्षा बैठक में कड़े निर्देश देते हुए कहा कि जनपद के जिस भी थाना क्षेत्र में गोकशी हुर्इ तो उस क्षेत्र का थानाध्यक्ष जिम्मेदार होगा। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में मोहर्रम, गणेश चतुर्थी समेत अन्य त्योेहार हैं। मोहर्रम में ताजिए निकलेंगे तो गणेश चतुर्थी पर शोभायात्राएं निकाली जाएंगी। एेसे में गोकशी पर लगाम कसी जाए आैर इसके लिए थाना क्षेत्र स्तर पर काम हो। उन्होंने कहा कि इस दौरान गोकशी की कोर्इ घटना होती है तो उस क्षेत्र के थानेदार को जिम्मेदार माना जाएगा आैर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवार्इ की जाएगी। जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि मोहर्रम के ताजियों आैर शोभायात्राआें के जो रूट पहले से रहें, इस बार भी वही रूट रहेंगे। ताजिए आैर शोभायात्राएं अलग-अलग समय से निकालें, ताकि कोर्इ दिक्कत न हो।

यह भी पढ़ेंः महिला थाने में दो सिपाही इस बात पर आपस में लड़ पड़ीं, जमकर बाल नोचे आैर चले तमाचे, Video

लोकल व्हाट्स एेप ग्रुपों पर रखें नजर

बैठक में मोहर्रम, गणेश चतुर्थी व अन्य त्योहारों के मद्देनजर एसएसपी अखिलेश कुमार ने कहा कि पुलिस लोकल व्हाट्स एेप ग्रुपों पर नजर रखे, जिससे कोर्इ भ्रामक या भड़काने वाली सूचना न फैले। अगर एेसा होता दिखता है तो एडमिन के खिलाफ सख्त कार्रवार्इ की जाए। उन्होंने कहा कि मोहर्रम पर एसडीएम आैर सीआे मिलकर ताजियों के रूट को चेक कर लें।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned