होटल में जब पहुंची पुलिस तो भीतर का नजारा देख रह गई दंग

पुलिस इन मामलों को पकड़ने के बावजूद मामूली कार्रवार्इ कर रही

 

 

By: sanjay sharma

Published: 07 Jun 2018, 02:50 PM IST

मेरठ। मेरठ के होटलों में अय्याशी पुलिस की छापामार कार्रवाई के बाद भी नहीं रूक रही है। मेरठ हाइवे पर स्थित होटल हो या फिर शहर के भीतर स्थित होटल। पुलिस की कार्रवाई में कोई न कोई युगल पकड़ में आ ही जाता है। ऐसे ही मेडिकल थाना क्षेत्र स्थित एक होटल पर शाम को पुलिस ने छापा मारकर एक युगल को आपत्तिजनक हालत में दबोच लिया। हालांकि, कुछ देर बाद ही पुलिस ने होटल संचालक के खिलाफ मामूली धाराओं में कार्रवार्इ करते हुए युगल को छोड़ दिया। तीन दिन पहले दिल्ली रोड पर गेस्ट हाउस संचालक की हत्या भी इसी वजह से हुर्इ थी।

यह भी पढ़ेंः भाजपा के फायरब्रांड विधायक संगीत सोम ने कैराना की हार पर दिया बड़ा बयान...

यह भी पढ़ेंः मायावती के इस खास सिपाही की मुश्किलें आैर बढ़ गर्इ, जानिए अब क्या हुआ

सेक्स रैकेट का अड्डा बन रहे होटल

शहर के कर्इ होटल सेक्स रैकेट का अड्डा बने हुए हैं। सूत्रों की मानें तो थानों की पुलिस से हर महीने इन होटलों से मोटी उगाही करके इन्हें मनमानी करने की छूट दी हुई है। वरना किसी होटल में एेसा काम हो, यह कैसे हो सकता है। जिसकी आड़ में ये होटल संचालक अपने यहां अय्याशी का सभी समान रखते हैं। देर शाम को मेडिकल पुलिस ने तेजगढ़ी चौराहा स्थित होटल पर छापा मारा। छापामार कार्रवाई के दौरान जब पुलिस ने एक कमरे का दरवाजा खोला तो उसके भीतर का नजारा देख पुलिस कर्मी भी दंग रह गए। कमरे के भीतर युगल आपत्तिजनक अवस्था में मिला। पुलिस ने दोनों काे पकड़ लिया और अपने साथ थाने ले आए।

यह भी पढ़ेंः किसानों ने हाइवे पर फेंक दी सब्जी, अब दस दिन तक चलेगा यही सिलसिला

यह भी पढ़ेंः उप मुख्यमंत्री की विवादित टिप्पणी को विपक्ष के नेताआें ने कैराना आैर नूरपुर से जोड़ा, कुछ कहा एेसा

पुलिस की यह लीपापोती कार्रवार्इ

एसओ मेडिकल सतीश कुमार ने बताया कि होटल संचालक के खिलाफ सराय एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि युवक और युवती के बालिग होने के कारण उन्हें छोड़ दिया गया। यह पूछे जाने पर कि वे क्या करने आए थे इस पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। सूत्रों के मुताबिक होटल का संचालन पहले किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किया जा रहा था। पिछले माह होटल को तेजगढ़ी चौराहे पर रहने वाले व्यक्ति ने किराए पर ले लिया था। सूत्रों की मानें तो इस महीने होटल संचालक द्वारा थाना पुलिस को महीना नहीं दिए जाने पर ही पुलिस ने होटल पर यह कार्रवाई की है। हालांकि बाद में होटल संचालक से बात हो जाने पर उसका चालान मात्र सराय एक्ट में काट कर थाना पुलिस ने अपनी कार्रवार्इ पूरी कर ली।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned