यूपी का अनोखा थाना: फरयादियों के माथे पर थानेदार पहले लगाते हैं चंदन तिलक फिर सुनते हैं समस्या

  • थाना नौचंदी एसओ खुद मंत्रोच्चारण के बीच करते हैं चंदन तिलक
  • थानेदार की इस पहल से थाना जिले में बना नजीर

By: shivmani tyagi

Updated: 21 Feb 2021, 08:20 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ. जिले का एक थाना नौचंदी इन दिनों पुलिस विभाग में नजीर बना हुआ है। यहां पर एक थानेदार ने अनोखी पहल की है। थाने में आने वाले हर फरियादी के माथे पर चंदन तिलक किया जाता है उसके बाद उसकी फरियाद सुनी जाती है। थानेदार की इस पहल की चारों ओर सराहना तो हो ही रही है वहीं पुलिस की एक नई छवि भी उबरकर सामने आई है। बता दें कि थाने में आने वाले फरियादियों की एक ही समस्या होती है कि उनकी शिकायत सुनते समय पुलिसकर्मी रौब गालिब करते हैं और ठीक से शिकायत भी नहीं सुनते लेकिन मेरठ के नौचंदी थाने में थानेदार और पुलिसकर्मियों का अलग ही रूप देखने को मिलता है। थाना नौचंदी के थानेदार प्रेमचंद शर्मा फरियादियों को मंत्रोच्चार के साथ माथे पर चंदन तिलक करते हैं।

यह भी पढ़ें: भाजपा विधायक संगीत सोम की सुरक्षा में तैनात सिपाही की मौत

थानेदार प्रेमचंद शर्मा का कहना है कि फरियादी जब थाने आते हैं तो वे व्याकुल रहते हैं, परेशान रहते हैं। चंदन तिलक लगते ही फरियादी ठंडे दिमाग से अपनी बात बता पाते हैं। थानेदार साहब का कहना है कि आधा समाधान तो सिर्फ मस्तिष्क का तिलक करने से हो जाता है। थानेदार जब मंत्रोच्चार के साथ फरियादियों के माथे पर चंदन का तिलक लगाते हैं तो वह नजारा बस देखते ही बनता है।

यह भी पढ़ें: छह साल की मासूम के साथ दरिंदगी, हत्या करके खेत में शव छिपाया

प्रेमचंद शर्मा का कहना है कि चंदन शीतलता का प्रतीक है। उनका कहना है कि लोग अपनी परेशानी की वजह से बेचैन होते हैं। इसलिए सबसे पहले वे चंदन का तिलकर लगाकर फरियादियों की बात सुनते हैं। माथे पर तिलक लगाते ही थाने में आने वाले लोगों में शीतलता आ जाती है और वे आसानी से अपनी बात रख पाते हैं। बाद में विधि के अनुसार उनके मामले में कार्रवाई की जाती हैं।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned