Lockdown: SSP ने दी चेतावनी, मस्जिदों में हुई जुमे की नमाज तो मौलवी के खिलाफ दर्ज होगी FIR

Highlights

  • मंदिरों और मस्जिदों में जमा होने पर होगी कार्रवाई
  • SSP ने सड़क पर उतरकर लोगों से की अपील
  • Lockdown का कड़ाई से पालन करने को कहा

 

By: sharad asthana

Updated: 27 Mar 2020, 12:15 PM IST

मेरठ। एसएसपी (SSP) अजय साहनी ने लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कराने के लिए मोर्चा संभालते हुए शुक्रवार (Friday) को मेरठ (Meerut) की सड़कों पर भ्रमण किया। उन्होंने नागरिकों से अपील की कि लॉकडाउन का शत-प्रतिशत पालन करें। एसएसपी अजय साहनी ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु मंदिरों एवं मस्जिदों में सामूहिक उपासना पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

यह कहा एसएसपी ने

उन्होंने कहा कि अगर मस्जिदों में जुमे की नमाज हुई तो मस्जिद के मौलवी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। शुक्रवार को जुमे की नमाज सभी लोग अपने अपने घरों में पढ़ेंगे। मस्जिदों में जुमे की नमाज नहीं होगी, अगर कोई व्यक्ति जुमे की नमाज पढ़ने के लिए मस्जिदों में जाता है, तो उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

लोगों से की अपील

एसएसपी ने मुस्लिम समुदाय से अपील की कि वे अपने घरों में ही जुमे की नमाज पढ़ें तथा सामूहिक रूप से एकत्र ना हों। जुमे की नमाज किसी भी हालत में मस्जिदों में नहीं होगी, सभी को इसका पालन करना होगा। एसएसपी ने सबसे घरों में रहने की शांति से अपील की हैं। शुक्रवार सुबह से ही एसएसपी अजय साहनी पुलिस फोर्स को साथ लेकर गली मोहल्लों में जाकर लोगों से घरों में रहने की अपील कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी मस्जिदों के इमाम और मंदिरों के पुजारी इस बात की तैयारी कर लें कि उनके यहां किसी प्रकार की कोई भीड़ एकत्र न हो। अगर ऐसा हुआ तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज होगी।

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned