चुनाव में जीतने को अपराधी बन गया कॉलेज स्टूडेंट

चुनाव में जीतने को अपराधी बन गया कॉलेज स्टूडेंट
charoda Corporation elections

sandeep tomar | Publish: Jan, 02 2017 05:53:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

रालोद के प्रत्याशी ने सपा छात्र सभा से समर्थन को किया गलत काम

मेरठ: साइबर सेल ने एक स्टूडेंट को ​हिरासत में लिया है जिसने फर्जी फेसबुक आईडी के सहारे एक छात्र नेता को बदनाम करने का प्रयास किया। साइबर सेल ने खुलासा करते हुए बताया कि कॉलेज में पढ़ने वाले एक युवक ने समाजवादी छात्रसभा के महानगर अध्यक्ष को बदनाम करने को उसकी फर्जी आईडी बनाई। उसी फर्जी आईडी के सहारे उसने फेसबुक पर गलत पोस्ट अपलोड की थी। अब पुलिस इस साइबर अपराधी पर कड़ी कार्रवाई करने की तैयारी में है।

बनाई थी फर्जी फेसबुक आईडी

बता दें कि  17 नवंबर को डीएन कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव के लिए वोटिंग हो रही थी। एबीवीपी की तरफ से अध्यक्ष पद के लिए अभिषेक को प्रत्याशी बनाया गया था। जबकि रालोद छात्र सभा से गौरव राणा उन्हें चुनौती दे रहे थे। गौरव भी अध्यक्ष पद के लिए ही चुनाव मैदान में थे। अभिषेक के पक्ष में सपा छात्र सभा के महानगर अध्यक्ष सम्राट मलिक ने समर्थन दिया था और वह उनके लिए वोट मांग रहे थे। ज्ञात हो कि सम्राट मलिक पूर्व में छात्र संघ के अध्यक्ष रह चुके हैं।

बनाई थी फेक आईडी

सम्राट मलिक ने एसएसपी से शिकायत की कि फेसबुक पर उनकी फर्जी आईडी बनाकर गौरव राणा के लिए छात्रों से वोट मांगी जा रही है। साथ ही कुछ छात्रों के खिलाफ गलत टिप्पणी भी की जा रही है। एसएसपी ने मामले की जांच साइबर सेल को दे दी थी।

जांच में हुआ खुलासा

डेढ़ माह की जांच में साइबर सेल की टीम फेसबुक की फर्जी आईडी बनाने वाले शख्स तक पहुंच पाई है। साइबर सेल के अनुसार फर्जी आईडी बनाकर गलत पोस्ट अपलोड वाला भी डीएन कालेज का छात्र गौरव राणा है। गौरव ने ही फर्जी आइडी बनाकर वोट हासिल करने के लिए इस प्रकार से अपराधिक कृत्य को अंजाम दिया था। गौरव राणा भी रोहटा रोड के शालीमार गार्डन में रहता है। हालांकि, चुनाव में गौरव राणा को हार का सामना करना पड़ा था। इसमें एबीवीपी के अभिषेक ने जीत हासिल की थी।

एसएसपी जे रविंद्र गौड़ के अनुसार सम्राट मलिक की शिकायत पर साइबर सेल ने पूरे मामले की जांच की जिसमें स्टूडेंट गौरव राणा आरोपी साबित हुआ। सेल से रिपोर्ट आने के बाद आरोपी के खिलाफ आईटी एक्ट में मामला दर्ज किया जाएगा।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned