यूपी के 17 जिलों का अलग प्रदेश बनाने की मांग, 18 सांसदों को भेजी पीले चावल की पाती, देखें वीडियो

Highlights

  • ग्रेटर दिल्ली प्रदेश निर्माण के लिए दो दिसंबर को दिल्ली कूच
  • पथिक सेना के नेतृत्व में अलग प्रदेश निर्माण की उठी आवाज
  • 17 जिलों के 18 सांसद होंगे शामिल दिल्ली तक की यात्रा में

By: sanjay sharma

Published: 27 Nov 2019, 11:31 AM IST

मेरठ। क्रांतिधरा से एक बार फिर से अलग प्रदेश के निर्माण की मांग जोर पकडऩे लगी है। इस बार ये मांग पश्चिम उप्र न होकर ग्रेटर दिल्ली प्रदेश के नाम से है। इस बार इसका नेतृत्व पथिक सेना कर रही है। पथिक सेना की मांग है कि पश्चिम उप्र के 17 जिलों को दिल्ली में शामिल कर उसको अलग से ग्रेटर दिल्ली प्रदेश बनाया जाए। ग्रेटर दिल्ली प्रदेश के लिए आगामी 2 दिसंबर को मेरठ से पश्चिम उप्र के 17 जिलों के लोग देश की राजधानी दिल्ली के लिए कूच करेंगे। यह जानकारी पथिक सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुखिया गुर्जर ने दी।

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र के घटनाक्रम पर बोले कांग्रेसी- मोदी और शाह जीरो टॉलरेंस करप्शन पर रचते हैं नाटक, देखें वीडियो

उन्होंने कहा कि आगामी 2 दिसंबर को मेरठ के भैंसाली मैदान से ऐतिहासिक यात्रा प्रारंभ होगी जो ग्रेटर दिल्ली प्रदेश का संकल्प लेकर मेरठ की क्रांतिधरा से चलेगी। ये यात्रा दिल्ली में पहुंचकर ग्रेटर दिल्ली प्रदेश की मांग के लिए धरना देगी। उन्होंने कहा कि हमने सभी 17 जिलों के 18 सांसदों को पीली पाती भेजी है, जिसमें उनसे भी इस धरने में शामिल होने का आह्वान किया है। मुखिया गुर्जर ने कहा कि उनके साथ इस समय पश्चिम उप्र का हर वर्ग शामिल है, जो ग्रेटर दिल्ली प्रदेश की मांग का समर्थन कर रहे हैं। मुखिया गुर्जर ने कहा कि आज प्रदेश का सर्वाधिक राजस्व देने वाला पश्चिम उप्र उपेक्षा का शिकार है। यहां के लोगों को हर काम के लिए 400-500 किमी की दूरी तय करनी होनी होती है। वह चाहे न्याय पाने का मामला हो या फिर प्रशासन स्तर का या राजनीति स्तर का। प्रदेश ही नहीं देश का भी सर्वाधिक उन्नतशील भाग होने के बाद भी यह राजनैतिक कारणों से उपेक्षा का शिकार रहा है। उन्होंने कहा कि अब पथिक सेना ने ग्रेटर दिल्ली प्रदेश के लिए मोर्चा खोल दिया है। इस लड़ाई को जीतने के लिए जो भी करना होगा हम करेंगे, लेकिन ग्रेटर दिल्ली प्रदेश लेकर रहेंगे।

sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned