आठवीं और नौवीं पास तैयार करते थे कोर्ट में जमानत के फर्जी कागजात, जानिये पूरा मामला

Highlights:

-फर्जी आधार कार्ड और पेन कार्ड बनाकर दिलवाते थे लोन

-पुलिस के हत्थे चढ़े दो आरोपी भेजे गए जेल

-जमानतदार की जांच में खुला पूरा मामला

By: Rahul Chauhan

Published: 21 Oct 2020, 05:07 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क मेरठ। फर्जी कागजात के आधार पर कोर्ट से जमानत करवाना हो या फिर फर्जी आधार कार्ड व पेन कार्ड के नाम पर लोन दिलवाने का मामला। सभी काम गिरोह के बाएं हाथ के खेल थे। गिरोह के पास सभी समस्याओं का समाधान फर्जी तरीके से था। पुलिस के हत्थे चढ़े लोगों से पूछताछ में जब खुलासा हुआ तो पुलिसकर्मी भी चौंक गए। फर्जी आधार कार्ड और पैन कार्ड के जरिए लोन दिलवाने व कोर्ट से जमानत दिनवाने वाले एक गिरोह के सदस्यों को पुलिस ने पकड़ा है। कोर्ट से जब जमानतदार की जांच हुई तो मामला पकड़ में आया। पुलिस ने दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया।

दरअसल नौचंदी थाना क्षेत्र के शास्त्रीनगर निवासी मुजम्मिल के घर जाकर कुछ दिन पहले एक दारोगा ने कोर्ट में जमानत देने के संबंध में पूछताछ की थी। उन्होंने जमानत देने से इन्कार कर दिया। दारोगा ने कागजात दिखाए तो पता उनका था, लेकिन फोटो किसी और का था। इसकी शिकायत मुजम्मिल ने क्राइम ब्रांच में की। मुजम्मिल ने बताया कि कुछ दिन पहले उसने शहजाद और रिजवान निवासी सराय खैरनगर को लोन के लिए कागजात दिए थे।

इस पर क्राइम ब्रांच की टीम ने दोनों को पकड़ लिया और पूछताछ की। पूछताछ में उन्होंने बताया कि लोन और जमानत के लिए वह फर्जी कागजात तैयार करते थे। लैपटाप पर फोटोशाप की मदद से इस काम को अंजाम दे रहे हैं। उनके पास से दो मोबाइल, एक आधार कार्ड और करीब डेढ़ हजार रुपये भी बरामद हुए। नौचंदी थाने में दोनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई। शहजाद नौवीं पास है। साथ ही उसने अपने कई नाम जैसे मुजम्मिल और इकरामुद्दीन भी रखे हुए थे। रिजवान आठवीं पास है।

दोनों ने बताया कि लोगों से लोन कराने के नाम पर आधार कार्ड, पैन कार्ड और प्रापर्टी के कागजात ले लेते थे। इसके बाद साफ्टवेयर की मदद से अपना या फिर किसी और का फोटो लगा लेते थे। फर्जी कागजातों की मदद से लोन, जमानत और सिम भी ले लेते हैं। मुजम्मिल के नाम पर भी कई खातों का पता चला है, जिन्हें बंद कराया जा रहा है। एक अन्य व्यक्ति इकरामुद्दीन के नाम पर सिम भी ले चुके हैं।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned