अलीगढ़ के ताला बाबा के शार्गिद से सीखा ताला खोलने का हुनर, फिर बना लिया ताला तोड़ गैंग

दुकान और मकानों के मजबूत ताले 30 सेकेंड में खोल देते थे गिरोह के सदस्य। छह लाख के माल के साथ तीन गिरफ्तार।

By: Rahul Chauhan

Published: 21 Aug 2021, 08:35 PM IST

मेरठ। दुकान और मकान पर लगा मजबूत से मजबूत ताला गिरोह के सदस्य 30 सेकेंड में तोड़ देते थे। उसके बाद मकान और दुकान को पूरी तरह से खंगाल देते थे। पल्लवपुरम पुलिस ने मकान व दुकानों के ताले तोड़कर चोरी करने वाले ताला तोड़ गिरोह के तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में तीनों बदमाशों ने बताया कि उन्होंने अलीगढ़ में ताला बनाने वालों के यहां से ताला खोलने की ट्रेनिंग ली उसके बाद ताला तोड़कर चोरी करने का काम शुरू कर दिया।

गिरोह के सदस्यों ने बताया कि वे प्रतिदिन सुबह अलीगढ के ताला बाबा की पूजा करते थे उसके बाद अपने मिशन पर निकलते थे। गिरोह के सदस्यों ने बताया कि उन्होंने अलीगढ़ के ताला बाबा के शार्गिद को अपना गुरु बनाया और उसी से ताला खोलने का हुनर सीखा। गिरोह के सदस्य इतने शातिर थे कि साइकिल के पहिए के तार से बड़े से बड़ा ताला पल भर में खोल लेते थे। तीनों बदमाशों की निशानदेही पर पुलिस ने चोरी के 15 हजार रुपये और करीब छह लाख रुपये के सोने व चांदी के गहने बरामद किए हैं। पुलिस ने डौरली गांव में हुई 11 लाख की चोरी का भी राजफाश किया है।

यह भी पढ़ें: भोजपुरी कपल का कार के अंदर तगड़ा सीन, वायरल हो रहा है वीडियो

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि छह अगस्त को पल्लवपुरम स्थित डौरली गांव निवासी सुरेश चंद शर्मा अधिवक्ता के घर के ताले तोड़कर सोने व चांदी के गहने और एक लाख रुपये से अधिक नगदी चोरी हुई थी। यह चोरी करीब 11 लाख कीमत की बताई गई थी। बदमाश गली में एक मकान के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे। फुटेज के आधार पर ही पुलिस की बदमाशों की तलाश कर रही थी। पुलिस ने पल्लवपुरम हाईवे के पास तीन संदिग्धों को खड़े देखा। पुलिस ने रूकने का इशारा किया तो वह भाग निकले। तीनों को धर दबोचा। पूछताछ में तीनों ताला तोड़ गिरोह के बदमाश निकले।

यह भी पढ़ें: इस बार 340 वर्ष बाद रक्षाबंधन पर भाई-बहन पर रहेगी पंचदेवों की कृपा, बढ़ेगा आपसी प्रेम

बदमाशों की निशानदेही पर सोने व चांदी के गहनों के अलावा 15 हजार रुपये नगद बरामद किए। बरामद गहने अधिवक्ता के घर से चोरी करना पुलिस को बताया गया। पुलिस ने अधिवक्ता को बुलाकर गहनों की जांच कराई, जिस पर वह गहने अधिवक्ता के घर से हुए चोरी वाले ही थे। साथ ही जिस बाइक से लूट की थी, वह भी बरामद हुई है। बाइक को बदमाशों ने दिल्ली के सदर से चोरी की थी। बदमाश गहने चोरी कर मेरठ व दिल्ली के कई सुनारों को बेचते थे। प्रेसवार्ता में सीओ दौराला आशीष शर्मा व इंस्पेक्टर पल्लवपुरम देवेश शर्मा मौजूद थे।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned