एनकाउंटर में कुख्यात वाइन किंग को पुलिस ने मारी गोली

Highlights
- मेरठ के ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में देर रात चेकिंग के दौरान हुई मुठभेड़
- दो दशक से तस्कर जिले में बना हुआ था वाइन किंग
- 30 से अधिक मुकदमे दर्जथे वाइन किंग रमेश प्रधान पर

By: lokesh verma

Published: 05 Apr 2021, 02:29 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ. मेरठ ही नहीं पूरे पश्चिमी उत्तर में वाइन तस्कर किंग के नाम से कुख्यात रमेश प्रधान को पुलिस ने एक मुठभेड़ के दौरान पकड़ लिया। मुठभेड़ में दोनों ओर से चली गोली में कुख्यात रमेश प्रधान को गोली लगी और वह घायल हो गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार, दोनों ओर से करीब आधा घंटे तक फायरिंग हुई। हालांकि इस दौरान अंधेरे का लाभ उठाकर तस्कर के साथी फरार हो गए। पुलिस के मुताबिक कुख्यात शराब माफिया रमेश प्रधान पर करीब 31 मुकदमे दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें- बाराबंकी पुलिस के रोपड़ पहुंचने से पहले ही एक्टिव हुए मुख्तार के गुर्गे, सबूत मिटाकर ढाबे पर छोड़ भागे एंबुलेंस

एसओ ब्रहमपुरी सुभाष अत्री ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर टीम के बिजली बम्बा बाईपास पर चेकिंग कर रहे थे। चेकिंग के दौरान बिजली बम्बा बाईपास की ओर से एक सिल्वर रंग की वैगनआर कार आयी। जिसे पुलिस टीम द्वारा बैरियर लगाकर रोकने का प्रयास किया। कार सवार युवक नहीं रुके और बैरियर को तोड़ते हुए गांधी इंस्टीट्यूट के बराबर वाले रास्ते पर मुड़ गये और चारों युवकों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। पुलिस पार्टी द्वारा आत्मरक्षार्थ भी फायरिंग शुरू की गई। इस दौरान दोनों ओर से करीब 30 मिनट तक फायरिंग होती रही। इसके बाद एक बदमाश के पैर में गोली लगी और वह घायल हो गया, जिसे घायल अवस्था में गिरफ्तार किया गया। वहीं, तीन युवक अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल हो गये, जिनकी काम्बिंग की जा रही है।

पूछताछ में घायल युवक ने अपना नाम रमेश प्रधान पुत्र बन्नी सिंह निवासी मंगतपुरम थाना ब्रहमपुरी मेरठ बताया है। रमेश प्रधान शराब माफिया है, जिसके विरुद्ध थाना ब्रहमपुरी व टीपी नगर पर 31 मुकदमे पंजीकृत है। घायल अभियुक्त थाना ब्रमहपुरी से वांछित चल रहा है जिस पर 25 हजार रुपये का ईनाम घोषित है। अभियुक्त के कब्जे से एक वैगनआर कार, छह पेटी शराब, एक तमंचा 315 बोर व भारी मात्रा में जिंदा व खोखा कारतूस बरामद हुए हैं। बता दें कि पिछले करीब दो दशक से अवैध शराब के कारोबार में लिप्त रमेश प्रधान पर कई बार कार्रवाई की गई, लेकिन उसके बावजूद भी मोटे मुनाफे के लालच में शराब का धंधा रमेश प्रधान बदस्तूर चलाता रहा।

यह भी पढ़ें- मासूम काे आम तोड़ने की मिली ऐसी देखकर कांप उठेगी रूह, बाग मालिक ने जमकर पीटा

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned