Unlock में रैपिड रेल के निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ्तार

Highlights
- Meerut-Delhi हाइवे पर तेज गति से चल रहा कार्य
- मुरादनगर तक खड़े कर दिए गए Rapid Rail के पिलर
- मेरठ महानगर में भीतर तक पहुंचा निर्माण कार्य

By: lokesh verma

Published: 05 Oct 2020, 12:23 PM IST

मेरठ. मेरठवासियों का सपना रैपिड रेल का निर्माण कार्य काफी तेज गति से चल रहा है। दिल्ली से शुरू हुआ निर्माण कार्य अब मेरठ महानगर की सीमा के भीतर प्रवेश कर गया है। मेरठ में भी निर्माण कार्य मे धीरे-धीरे तेजी आती जा रही है।

बता दें कि दिल्‍ली-मेरठ के बीच रैपिड रेल निर्माण कार्य इन दिनों जोरों पर है। एनसीआर ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन के अफसरों ने रैपिड रेल के स्टेशन और कॉरिडोर के लिए मेवला, मेरठ खास, पल्हेड़ा और सिवाया में जमीन खरीदने की तैयारी की है। जमीन उसके मालिकों से सहमति के आधार पर खरीदी जाएगी। रैपिड अधिकारियों ने किसानों से समझौते के तहत एग्रीमेंट किया है। इस प्रोजेक्ट के लिए केंद्र सरकार और एशियाई विकास बैंक के बीच एक समझौता हुआ था। इस समझौते के तहत केंद्र सरकार ने दिल्ली-मेरठ रैपिड मेट्रो-रेल प्रोजेक्ट के लिए एशियाई विकास बैंक ने 3750 करोड़ लोन दिया है।

यह भी पढ़ें- Hathras Case: पीड़ित परिवार को दी गई कड़ी सुरक्षा, छावनी में तब्दील हुआ गांव

बताते चलें, दिल्ली-मेरठ के रैपिड मेट्रो-रेल प्रोजेक्ट के तहत साल 2025 तक इस रुट के लिए रैपिड रेल के 30 ट्रेन सेट और मेरठ मेट्रो के 10 ट्रेन सेट चलाए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट के तहत 82 किलो मीटर लम्बा एक रेलवे ट्रैक निर्मित किया जा रहा है, जिसका कार्य तेजी से चल रहा है। मुरादनगर तक कई स्थानों पर पिलर बनकर तैयार भी हो चुके हैं। रैपिड मेट्रो-रेल प्रोजेक्ट पर दो प्रमुख चरणों में तेजी से काम चल रहा है।

दिल्ली से गाजियाबाद होते हुए मेरठ तक चलने वाली रैपिड रेल का काम दिल्ली से लेकर गाजियाबाद के बीच और गाजियाबाद से आगे मेरठ महानगर तक पहुंच गया है। केंद्र और प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं में यह शामिल है। पिलर खड़ा होने के बाद अब इसके स्टेशनों, डिपो, यार्ड और कॉरिडोर के लिए काम शुरू करने की व्यवस्था की जा रही है।

यह भी पढ़ें- हाथरस के बाद अब मेरठ में छात्रा से गैंगरेप, पीड़िता के घर के बाहर लगाई पुलिस फोर्स

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned