लॉकडाउन में सिपाही ने सफाईकर्मी का काटा चालान, बीच चौराहे मचा बवाल

Highlights

-जाम लगाकर सड़क पर बैठे सैकड़ों कर्मचारी

-पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे

-सफाईकर्मी बोले, इसी तरह से काटा जाएगा चालान तो नहीं करेंगे लाकडाउन में काम

By: Rahul Chauhan

Published: 30 Aug 2020, 03:46 PM IST

मेरठ। लॉकडाउन के दौरान एक सिपाही को सफाईकर्मी का चालान काटना काफी महंगा पड़ गया। सफाईकर्मी ने चालान काटे जाने की जानकारी अपने साथी सफाईकर्मी और यूनियन के नेताओं को दी तो सैकड़ों की संख्या में सफाई कर्मी एकत्र होकर चौराहे पर पहुंच गए और बीच सड़क धरना देकर बैठ गए। कर्मचारियों का आरोप था कि लॉकडाउन में अधिकारियों के कहने पर ही सफाई कर्मी सड़कों पर निकलकर सफाई कर रहे हैं और पुलिसकर्मी उनका चालान काट रहे हैं। सफाईकर्मी यूनियन के नेताओं ने दो टूक कह दिया कि चालान वापस लिया जाए नहीं तो नगर की सफाई व्यवस्था को ठप कर दिया जाएगा।

घटना रविवार को सुबह रेलवे रोड चौराहे की है। जहां पर 55 घंटे के लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने सफाई कर्मचारी के वाहन का चालान काट दिया। इसका पता लगते ही सफाई कर्मचारी एकत्र हो गए और पुलिस कार्रवाई का विरोध करते हुए हंगामा कर दिया। सफाई कर्मचारी बीच चौराहा धरना देकर बैठ गए और हंगामा शुरू कर दिया। इसकी जानकारी पुलिस अधिकारियों को लगी तो उनमें हड़कंप मच गया। कई थानों का फोर्स और आलाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए।

सफाई कर्मचारी कैलाश चंदौला समेत तमाम सफाई कर्मचारियों को जैसे ही पुलिस द्वारा सफाई कर्मचारी का चालान काटे जाने की सूचना मिली तो वह रेलवे रोड चौराहे पर पहुंच गए। पुलिस के साथ सफाई कर्मचारियों की नोकझोंक हुई। सफाई कर्मचारियों ने कहा कि वह अपनी जान जोखिम में डालकर सफाई कार्य करते हैं लेकिन ड्यूटी से लौटते समय शनिवार और रविवार को पुलिस उनके वाहनों के चालान कर रही है। सफाई कर्मचारियों ने चेतावनी दी कि यदि पुलिस इसी तरह से कार्रवाई करेगी तो वह शनिवार और रविवार को सफाई कार्य नहीं करेंगे। बाद में अधिकारियों और कर्मचारी नेताओं के बीच हुई वार्ता के बाद धरना समाप्त कर दिया गया।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned