B.Ed Entrance Exam 2020: बुखार वाले अभ्यर्थियों के लिए जारी हुआ आदेश, ऐसे दे सकेंगे परीक्षा

Highlights

-अलग से कमरे की व्यवस्था
-एक कमरे में बैठेंगे 24 परीक्षार्थी
-आगामी 9 अगस्त को है बीएड प्रवेश परीक्षा

By: Rahul Chauhan

Updated: 07 Aug 2020, 09:46 PM IST

मेरठ। विरोध और धरने—प्रदर्शन के बीच बीएड प्रवेश परीक्षा आगामी 9 अगस्त को कराई जाएगी। इस बार बीएड प्रवेश परीक्षा कराने का जिम्मा लखनऊ विवि के पास है। कोविड—19 के तहत बीएड प्रवेश परीक्षा के लिए गाइड लाइन तैयार की गई है। जिसके तहत मास्क, सोशल डिस्टेंस और संक्रमण से बचाव के सभी जरूरी उपाय परीक्षा केंद्रों पर उपलब्ध कराए जाने के लिए कहा गया है। परीक्षा की गाइडलाइन के तहत बुखार पीड़ित अभ्यर्थियों को परीक्षा से वंचित नहीं किया जाएगा। बल्कि उन्हें अगल कमरे में बैठाया जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग को देखते हुए एक कमरे में 24 परीक्षार्थी के बैठने की व्यवस्था करनी होगी।

बीएस प्रवेश परीक्षा में कुल 73 जनपदों के सैकड़ों केन्द्रों पर चार लाख से भी अधिक परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं। जब प्रदेश में तीन अगस्त तक कुल 4473 संक्रमित सहित कुल संख्या 97362 से भी अधिक लोग कोविड-19 की गिरफ्त में आ गये हैं। ऐसी स्थिति में लोगों का जीवन जोखिम में डालकर बीएड प्रवेश परीक्षा करना औचित्य पूर्ण नहीं है। बीएस प्रवेश परीक्षा निरस्त कराने को लेकर कई बार विरोध प्रदर्शन भी किए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री से लेकर पीएम तक पत्र भेजे जा चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद भी लखनऊ विवि ने अभी तक परीक्षा निरस्त नहीं की है। वैसे अभी अभ्यार्थियों को उम्मीद है कि बीएड प्रवेश परीक्षा केा निरस्त किया जा सकता है। अभी परीक्षा में 48 घंटे से अधिक का समय बचा हुआ है। रविवार होने के कारण भी इस पर असर पड़ सकता है। क्योंकि रविवार को प्रदेश भर में लॉकडाउन रहता है। प्रो वीसी वाई विमला ने बताया कि विवि से संबंधित जिन कालेजों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। उनमें सभी इंतजाम करने के निर्देश दिए गए हैं। परीक्षा केंद्रों में कोरोना संक्रमण से बचाव के पूरे इंतजाम करने को कहा गया है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned