बड़ी खबर: शिवपाल को राज्यसभा देने वाले अखिलेश के बयान पर सपा के ही बड़े नेता ने कह दी यह बात

अखिलेश ने शिवपाल को लेकर दिया बड़ा बयान तो दूसरे नेताओं ने कही यह बात।

By: Kaushlendra Pathak

Published: 13 Mar 2018, 06:14 PM IST

मेरठ। काफी समय से सपा में चल रहे आपसी कलह को दूर करने के लिए अखिलेश यादव ने मंगलवार को बड़ा बयान दिया। अखिलेश यादव ने खुलकर कहा कि चाचा शिवपाल को 2022 में राज्यसभा दे दूंगा। अखिलेश के बयान से सपा को एक नई एनर्जी मिल गई है। पार्टी के दूसरे नेताओं और कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। वहीं, शिवपाल खेमे के माने जाने वाले दर्जा प्राप्त पूर्व राज्यमंत्री डॉ. कुलदीप उज्जवल ने इसे पार्टी और राज्य की राजनीति के लिए अच्छा संकेत बताया है।

पार्टी और होगा मजबूत

उनका कहना है कि पार्टी के भीतर न तो पहले शीर्ष स्तर पर कहीं किसी का विरोध था और ना आज ही है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल यादव का हमेशा सम्मान किया है। विरोधी के स्तर से यह बातें राजनैतिक गलियारों में फैलाई जाती रही कि इन दोनों नेताओं के बीच आपसी मतभेद है। गौरतलब है कि कुलदीप उज्जवल शिवपाल खेमे के माने जाते हैं और जिस समय अखिलेश और शिवपाल के बीच मतभेद चरम पर था उस दौरान डॉ. कुलदीप उज्ज्वल से उनका मंत्रीपद छीन लिया गया था। पिछले विधानसभा चुनाव में भी उनको टिकट नहीं दिया गया था। जिस पर कुलदीप ने कांग्रेस से चुनाव लड़ा था।

2019 में मजबूती से चुनाव लड़ेगी सपा

वहीं, सपा के पूर्व विधायक और राज्यमंत्री शाहिद मंजूर भी इस मामले पर खुलकर मीडिया के सामने बोले। उन्होंने अखिलेश यादव के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि शिवपाल यादव का अखिलेश यादव हमेशा सम्मान करते रहे हैं। कुछ मौका परस्त लोगों के कारण इन दोनों के बीच रिश्ते जरूर कमजोर हुए थे। लेकिन अखिलेश ने हमेशा अपने चाचा का सम्मान किया। हर उस विशेष मौके पर जब भी वे एक होते तो अखिलेश, शिवपाल के पैर छूकर आर्शीवाद लेते थे। समाजवादी पार्टी में बडों का सम्मान हमेशा से होता आया है। वह चाहे कार्यकर्ता है या पदाधिकारी। उन्होंने कहा कि इससे पार्टी मजबूत होगी और आने वाला चुनाव 2019 मजबूती के साथ लड़ा जाएगा। मौका परस्त राजनीति करने वाली भाजपा के खिलाफ और पार्टी हित में लिया गया यह फैसला बिल्कुल सही है। शिवपाल यादव ही एकमात्र ऐसे नेता हैं जो पार्टी में सभी लोगों को साथ लेकर आगे बढ़ सकते हैं।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned