स्ट्रीट वेंडर्स को मिला लोन तो पीएम मोदी को बता दिया अपना भगवान

Highlights

-पीएम स्वः निधि योजना के लाभार्थियों से किया वर्चुअल संवाद

-प्रधानमंत्री स्वः निधि योजना पटरी व्यवसायियों के लिए योजना

-पटरी व्यवसायी योजना के लाभ से वंचित न रहे

By: Rahul Chauhan

Published: 28 Oct 2020, 10:10 AM IST

मेरठ। प्रधानमंत्री स्वः निधि योजना के लाभार्थियों से प्रधानमंत्री ने वर्चुअल संवाद किया। नगर निगम के टाऊन हाॅल के सभागार में वर्चुअल संवाद का सीधा प्रसारण किया गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश का गरीब ईमानदारी व आत्मसम्मान से कभी भी समझौता नहीं करता है। उन्होने कहा कि गरीबो का कल्याण हमारा उद्देश्य है तथा गरीब का उत्थान व उसको आत्मनिर्भर बनाने तक हमारा प्रयास जारी रहेगा। योजनान्तर्गत उप्र में स्टाम्प डयूटी से मुक्त किया गया है।

इस अवसर पर विधायक द्वारा 25 लाभार्थियों को ऋण वितरण के प्रमाण पत्र भी वितरित किये गये। ऋण पत्र पाकर स्ट्रीट वेंडरों ने कहा कि पीएम मोदी हमारे भगवान हैं। हम उनका यह अहसान कभी नहीं भूलेंगे।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने आगरा की फल विक्रेता प्रीति, वाराणसी के मोमोज व काॅफी विक्रेता अरविन्द मौर्य व लखनऊ के दालबाटी आदि विक्रेता विजय बहादुर से वर्चुअल संवाद किया। उन्होने सभी को अपनी शुभकामनाएं दी तथा डिजीटल पेमेन्ट का अधिक से अधिक उपयोग करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि डिजीटल पेमेेन्ट में कैश बैक भी मिलता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्व में गरीब आदमी पहले बैंक के भीतर जाने की सोच नहीं सकता था आज बैंक खुद चलकर उनके पास आ रहे है। यह एक सुखद परिवर्तन है। उन्होंने कहा कि गरीबों का कल्याण हमारा उद्देश्य है तथा गरीब का उत्थान व उसको आत्मनिर्भर बनाने तक हमारा प्रयास जारी रहेगा। विधायक मेरठ कैन्ट सत्य प्रकाश अग्रवाल ने कहा कि सरकार आमजन व गरीबो के कल्याण के लिए अनेकों कदम उठा रही है, यह आमजन की सरकार है। उन्होंने कहा कि सभी निष्ठा से कार्य करें व योजनाओं का लाभ पात्रों तक पहुंचाये।

जिलाधिकारी के. बालाजी ने कहा कि कोई भी पटरी व्यवसायी योजना के लाभ से वंचित न रहे इसको सुनिश्चित किया जाये तथा जनपद में योजनान्तर्गत शत-प्रतिशत संतृप्तिकरण हो।

नगरायुक्त अरविन्द चौरसिया ने बताया कि योजनान्तर्गत लाभार्थी पटरी व्यवसायी को रू0 10 हजार का ऋण दिया जाता है। सरकार द्वारा ऋण के ब्याज पर 07 प्रतिशत का अनुदान भी दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि डिजीटल पेमेन्ट के उपयोग करने से लाभार्थी को ब्याज पर भी फायदा मिलता है। इस अवसर पर मेयर सुनीता वर्मा, नगरायुक्त अरविन्द चैरसिया, एडीएम सिटी अजय तिवारी सहित अन्य अधिकारी, पार्षद व लाभार्थी उपस्थित रहे।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned