गजब! 10वीं की छात्रा ने संभाली थाना प्रभारी की कुर्सी, लोगों की समस्याओं का किया समाधान

Highlights:

-थाने में बैठकर सुनीं लोगों की समस्याएं
-मौके पर ही किया समस्याओं का निस्तारण
-एसओ विजय गुप्ता ने किया अनोखा प्रयोग

By: Rahul Chauhan

Published: 20 Nov 2020, 03:34 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। आपने अनिल कपूर की फिल्म नायक तो देखी होगी। जिसमे एक टीवी रिपोर्टर एक दिन के लिये मुख्यमंत्री बनाया जाता है। बस कुछ मेरठ महानगर में हुआ है। यहां एक दसवीं की छात्रा को एक दिन के लिये थानेदार बना दिया गया। वह भी किसी ग्रामीण क्षेत्र के थाने का नहीं, बल्कि सबसे पॉश इलाके के थाने ट्रांसपोर्ट नगर का। इस छात्रा का नाम रानी है। जिसने बतौर थानेदार अपनी ड्यूटी निभाई। दरअसल, अंतर्राष्ट्रीय बाल दिवस के मौके पर शुक्रवार को जसवंत राय इंटर कालेज मलियाना में पढ़ने वाली कक्षा 10 की छात्रा रानी एक दिन की थानेदार बनी और उसने पीड़ितों की समस्याएं सुनकर उनका निस्तारण किया।

यह भी पढ़ें: इन जिलों में बदलेगा मौसम का मिजाज, कड़ाके की ठंड के लिए रहिए तैयार

थाना टीपी नगर के थानेदार विजय गुप्ता ने यह प्रयोग किया। उन्होंने दसवीं की छात्रा को एक दिन का थानेदार बनने का मौका दिया। रानी सुबह थाना टीपी नगर पहुंची और फिर वह सारी प्रक्रिया शुरू हुई। जैसे एक थानेदार की आमद कराई जाती है। यानी की जिस तरह से पुलिस कर्मी की तैनाती होती है। रानी ने बाकायदा लिखा-पढ़ी के साथ अपना प्रभार लिया। स्टाफ ने बुके देकर स्वागत किया तो सलामी देकर औपचारिक स्वागत भी किया गया। यहां से रानी का एक्शन शुरू हुआ।

उन्होंने तत्काल मातहत पुलिस कर्मियों के साथ बैठक की और पुलिस की कार्यप्रणाली से लेकर समस्याओं पर बात की। बैठक खत्म होते ही प्रतिदिन थाने आने वाले फरियादियों की रानी ने शिकायत सुनी। इसके बाद थाने के बंदीगृह मालखाना से लेकर लिखा-पढ़ी करने के तौर तरीके को जाना। थाने का निरीक्षण करने के साथ रजिस्टर के पन्ने पलट सवाल भी किये।

यह भी पढ़ें: हाईकोर्ट में सपा सांसद आजम खान के खिलाफ दो मामलों में सुनवाई पूरी, जल्द आ सकता है फैसला

इसके बाद रानी पुलिस कर्मियों के साथ वाहन चेकिंग पर निकली। जिसमें उन्होंने वाहन चालको को यातायात का पाठ पढाया। रानी ने लड़कियों को संदेश देते हुये कहा कि अपनी जिम्मेदारी समझने पर ही बराबरी का हक मिलेगा। फिर चाहे वह यातायात नियम का पालन करना हो य अन्य मुद्दे। एक दिन की थानेदार बनी रानी ने कहा कि पुलिसकर्मियों की कार्यप्रणाली को समझना एक अनोखा अनुभव है। एक दिन का चार्ज संभालने हुए मैने छोटे छोटे मुद्दे देखें।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned