scriptUP DGP Senior IPS Prashant Kumar Action encounter criminal who shot inspector in Meerut | डीजीपी बनते ही एक्शन में प्रशांत कुमार, दरोगा को गोली मारने वाले बदमाश का 11वें दिन एनकाउंटर | Patrika News

डीजीपी बनते ही एक्शन में प्रशांत कुमार, दरोगा को गोली मारने वाले बदमाश का 11वें दिन एनकाउंटर

locationमेरठPublished: Feb 04, 2024 09:23:13 am

Submitted by:

Vishnu Bajpai

UP News: यूपी में वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी प्रशांत कुमार ने कार्यवाहक डीजीपी का पदभार संभालते ही एक्‍शन दिखाना शुरू कर दिया। इसके बाद माफिया और बदमाशों में खलबली मच गई है।

police_action_in_meerut.jpg
Police Action in Meerut: उत्तर प्रदेश के नए कार्यवाहक डीजीपी प्रशांत कुमार ने पदभार संभालते ही कानून का राज स्‍थापित करने के आदेश दिए थे। इसके बाद अब पुलिस ने ताबड़तोड़ एक्‍शन दिखाना शुरू कर दिया है। इसी के तहत मेरठ में 11 दिन पहले दरोगा को गोली मारने वाले बदमाश का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया है। दरअसल, मेरठ के कंकरखेड़ा में 11 दिन पहले चौकी इंचार्ज मुन्नेश सिंह कसाना को गोली मारने वाले दो बदमाशों को शनिवार को कंकरखेड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पिस्टल बरामदगी के दौरान चौकी इंचार्ज को गोली मारने वाले बदमाश विनय वर्मा ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में विनय वर्मा मारा गया। उसके दूसरे साथी माधवपुरम निवासी नरेश को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीसरे फरार बदमाश सैनिक विहार निवासी अनुज की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

हाईवे चौकी इंचार्ज के सीने में मारी थी गोली


एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह ने बताया कि 23 जनवरी की रात कंकरखेड़ा में विवाह मंडप के बाहर से गाड़ी लूटकर भाग रहे बदमाशों का पुलिस से सामना हो गया था। एक बदमाश के पकड़े जाने पर उसके साथियों ने कंकरखेड़ा की हाईवे चौकी इंचार्ज मुन्नेश सिंह के सीने में गोली मार दी थी। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी थी। घटना को अंजाम देने में कंकरखेड़ा के जस्सू मोहल्ला निवासी विनय वर्मा, माधवपुरम सेक्टर तीन निवासी निवासी नरेश सागर और सैनिक विहार निवासी अनुज का नाम सामने आया। शनिवार दोपहर को कंकरखेड़ा के खिर्वा से पु़लिस ने विनय वर्मा और नरेश सागर को गिरफ्तार कर लिया।

जंगल में पिस्टल बरामदगी के दौरान पुलिस पर किया फायर


एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि पुलिस शाम को विनय को लेकर दायमपुर के जंगल में पिस्टल बरामद करने गई थी। विनय वर्मा ने झाड़ी में छिपाई गई पिस्टल उठाकर अचानक से पुलिस पर चार गोलियां चला दीं। एक गोली सिपाही सुमित के कंधे को छूती हुई निकल गई। पुलिस ने जवाबी फायरिंग की। इसमें दो गालियां विनय वर्मा को लगी। पुलिस ने उसे पहले अस्पताल फिर हायर सेंटर में भर्ती कराया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। हालांकि पुलिस ने दूसरे बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है। फरार तीसरे बदमाश को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

वरिष्ठ IPS प्रशांत कुमार को मिला है एनकाउंटर स्पेशलिस्ट का तमगा


उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बनाए गए वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी प्रशांत कुमार को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माना जाता है। मेरठ जोन में उनकी तैनाती के दौरान सबसे ज्यादा एनकाउंटर हुए थे। साल 1990 बैच के आईपीएस अधिकारी प्रशांत कुमार करीब तीन साल तक मेरठ जोन में एडीजी जोन के पद पर तैनात रहे। उनकी तैनाती के दौरान ही पश्चिमी यूपी में सबसे अधिक बदमाशों के एनकाउंटर हुए थे।

ट्रेंडिंग वीडियो