ऑक्सीजन खत्म होने पर अस्पताल में परिजनों का हंगामा, देखें वीडियो-

ऑक्सीजन को लेकर प्रशासन के तमाम दावे हुए फेल, तिमारदार हो रहे परेशान

By: lokesh verma

Published: 03 May 2021, 05:14 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ. एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मरीजों को इलाज मिलने के बड़े दावे कर रहे हैंं। वहीं, दूसरी ओर मेरठ प्रशासन ऑक्सीजन किल्लत खत्म होने की बात कर रहा है, लेकिन इसके विपरीत स्थिति काफी पेचीदा हो चुकी है। अस्पताल मरीजों के परिजनों को ऑक्सीजन खत्म होने की बात करते हैं तो मरीजों के परिजन अस्पताल प्रशासन से मारपीट पर उतारू हो रहे हैं। मेरठ में लगातार इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- दलगत राजनीति से हटकर सभी दल मिलकर कोरोना की लड़ाई में मदद करें : मायावती

दरअसल, गढ़ रोड स्थित एक अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने पर मरीजों के परिजनों ने जमकर हंगामा किया और अस्पताल में तोड़फोड़ कर डाली। वहीं बीती रात धन्वंतरी अस्पताल में भी देर रात ऑक्सीजन खत्म होने पर तीमारदारों ने हंगामा किया। अस्पताल प्रशासन ने सभी गेट बंद कर लिए और थाना पुलिस को इसकी जानकारी दे दी। मौके पर पहुंची कई थानों की पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन वे किसी भी बात को सुनने को तैयार नहीं थे। मरीजों के परिजनों ने बताया कि आधा घंटा पहले फोन कर बताया कि अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने वाला है। आप ऑक्सीजन सिलेंडर का खुद ही जुगाड़ कर लीजिए। इसको लेकर परिजनों का घंटों हंगामा चला।

तीमारदारों ने आरोप लगाया की मेरठ में लगातार प्रशासन के दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। ऑक्सीजन की कालाबाजारी की खबरें लगातार आ रही हैं। इस बारे में जब नोडल अधिकारी एडीएम सिटी अजय तिवारी से बात की गई तो उनका कहना था कि जिले में जरूरत पड़ने पर अस्पतालों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा रही है। जिस अस्पताल को जैसे जरूरत है उसे उस हिसाब से ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा चुकी है।

यह भी पढ़ें- शवों की लंबी-लंबी कतार देख हुई पीड़ा तो श्मशान के लिए दान कर दी अपनी पुश्तैनी जमीन

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned