विटामिन-सी फलों के दामों में आई तेजी, दाेगुने तक हुए दाम

संतरा, नींबू, मौसमी के दाम हुए दोगुना, बिक्री में भी आई काफी तेजी, 80 रुपये किलो बिक रहा नींबू पहुंचा 200 रुपये किलो

By: shivmani tyagi

Updated: 17 Apr 2021, 01:55 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ meerut news कोरोना काल में विटामिन सी vitamin c की प्रचुरता वाले फलों fruit की खपत बढ़ी तो इनके दामों में जबरदस्त तेजी आ गई है। हाल यह है कीमतों में बड़ा उछाल दर्ज किया गया है। संतरा, नींबू, मौसमी, आंवला आदि फलों की बिक्री आम दिनों की तुलना में काफी बढ़ गई है। इनमें से कई फलों की बिक्री तो करीब दोगुनी हो गई है। खपत के साथ-साथ फसल कम होने का बड़ा अंतर फल बाजार पर साफ दिख रहा है।

थोक मंडी में फलों के भाव vitamin c fruits
2020 के अप्रैल माह में संतरा 1800 से 2000 रुपये प्रति कुंतल बिक रहा था इस वर्ष इसकी कीमत 3200 से 3500 रुपये कुंतल है।

2020 के अप्रैल माह में किन्नू 1600 से 1800 रुपये प्रति कुंतल बिका था इस बार इसकी कीमत भी 2500 से 2800 रुपये प्रति कुंतल हो गई है।

2020 के अप्रैल माह में मौसमी 1700 से 1800 रुपये प्रति कुंतल बिकी लेकिन इस बार इसकी कीमत 2300 से 2500 रुपये प्रति कुंतल हाे गई है।

2020 के अप्रैल माह में नींबू 3000 से 3200 रुपये प्रति कुंतल बिका था लेकिन इस इबार 8500 से लेकर 9000 रुपये प्रति कुंतल तक पहुंच गया है।

फुटकर मंडी में फलों के भाव vitamin c benefits
संतरा पिछले वर्ष 40 से 50 रुपये था इस बार 80 से 100 रुपये प्रति किलो
किन्नू पिछले वर्ष 30 से 40 रुपये था इसि बार 60 से 70 रुपये प्रति किलो
मौसमी पिछले वर्ष 40 से 50 रुपये थी इस बार 55 से 70 रुपये प्रति किलो
नींबू पिछले वर्ष 60 से 80 रुपये था इस बार 180 से 200 रुपये प्रति किलो

संतरा और मौसमी की आवक कम होनें से संकट और गहरा गया है। मेरठ में महाराष्ट्र के नासिक, नागपुर, पंजाब आदि शहरों से संतरा, मौसमी आदि फलों की आपूर्ति होती है लेकिन इस बार संतरें की फसल काफी कम रही। पिछली बार करीब 15450 क्विंटल की आपूर्ति सभी मंडियों में हुई थी लेकिन अभी तक महज 2040 क्विंटल ही संतरा आ पाया है। मौसमी की आवक जहां पिछले साल अप्रैल माह में 4050 क्विंटल थी वह इस साल अप्रैल माह में घटकर 2014 क्विंटल ही रह गई। संतरे और मौसमी की आवक में भारी अंतर देखने को मिला है। किन्नू और आंवला की फसल खत्म हो गई है। माना जा रहा है कि इस बार फलों की बढ़ती कीमतों के पीछे यह भी एक बड़ी वजह है।

Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned