बदला मौसम का मिजाज, बूंदाबांदी से बढ़ी ठिठुरन, जानिये कब से पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Highlights

- ठंड के मौसम की पहली बूंदाबादी से सराबोर हुआ वेस्ट यूपी
- अलसुबह हुई बूंदाबादी से एक्यूआई में जबरदस्त गिरावट
- चक्रवाती तेज हवाओं से मौसम होगा सर्द

By: lokesh verma

Published: 26 Nov 2020, 11:32 AM IST

मेरठ. मौसम विभाग की चेतावनी के बाद गुरुवार अलसुबह वेस्ट यूपी के कुछ जिलों में हल्की बारिश तो कुछ में बूंदाबांदी देखने को मिली। बूंदाबादी से जहां वायु प्रदूषण में कमी आई है, वहीं तापमान में भी हल्का अंतर दिखाई दिया है। हालांकि बारिश से ठंड में किसी प्रकार की कोई तब्दीली नहीं देखी जा रही है। लेकिन, माना जा रहा है कि एक सप्ताह बाद यानी दिसंबर की शुरुआत में ठंड अपने पूरे शबाब पर होगी। आगामी दो महीने दिसंबर और जनवरी पूरी कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार हैं।

यह भी पढ़ें- Weather Update : पछुआ हवाओं, कोहरा और बदली ने बढ़ाई ठंड, अगले 24 घंटे ऐसा रहेगा मौसम

मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दो दिनों में वेस्ट यूपी में तेज हवाओं के साथ मध्यम से हल्की बारिश के आसार हैं। दो दिनों तक मेरठ में इस तरह से ही मौसम रहेगा। कल के बाद रात के तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। आगामी दो दिन बाद मौसम विभाग ने छुटपुट बारिश की उम्मीद जताई है। यह बारिश फसल के लिए काफी लाभप्रद होगी। दो दिन होने वाली बारिश के बाद मेरठ समेत पश्चिमी उत्तम प्रदेश में मौसम तेजी से बदलेगा। दिसंबर और जनवरी तक दिन में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना जताई जा रही है।

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 15 दिसंबर के बाद कोहरा मेरठ और आसपास के इलाकों में लोगों को परेशान करेगा। यानी आने वाले दिनों में सर्दी और शीतलहर का प्रकोप बढ़ने के आसार हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल कृषि विवि के मौसम वैज्ञानिक डॉ. यूपी शाही ने बताया कि गुरुवार सुबह हुई बूंदाबादी खेती के लिए बहुत जरूरी थी। इससे जहां रबी की फसल को लाभ मिलेगा। वहीं वायुमंडल में फैले प्रदूषण से राहत मिलेगी। बीते कई महीनों में बारिश नहीं होने से वायुमंडल में प्रदूषकों का स्तर मानकों से कई गुना अधिक बना हुआ था।

यह भी पढ़ें- शराब के शौकीनों के लिए बड़ी खबर, तीन दिन बंद रहेंगी शराब की दुकानें, पढ़ें पूरा आदेश

rain alert
Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned