पटाखों ने वेस्ट यूपी-एनसीआर की हवा आैर खराब की, मौसम वैज्ञानिकों ने दी ये चेतावनी

पटाखों ने वेस्ट यूपी-एनसीआर की हवा आैर खराब की, मौसम वैज्ञानिकों ने दी ये चेतावनी

Sanjay Kumar Sharma | Publish: Nov, 08 2018 10:21:52 AM (IST) | Updated: Nov, 08 2018 10:21:53 AM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

रात का तापमान कम आैर हवा नहीं चलने से लोगों की परेशानी बढ़ी

 

मेरठ। पंजाब आैर हरियाणा में धान के अवशेष जलाने के बाद खराब हुर्इ हवा आैर अब दीपावली में पटाखों के धुएं से वेस्ट यूपी में वायु प्रदूषण की स्थिति बिगड़ गर्इ है। इस पर तापमान घटने के बाद लोगों को सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। साथ हवा भी नहीं चलने से घुटन, गले में खराश आैर आंखों में जलन जैसी शिकायतें लोगों में देखने को मिल रही हैं। मौसम वैज्ञानिको का कहना है कि दीपावली पर मौसम में बदलाव देखने को मिला है, अब जल्द आैर सर्द बढ़ने की संभावना है, इसलिए लोग सर्दी आैर वायु प्रदूषण को लेकर एेतिहात बरतें।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली-एनसीआर-वेस्ट यूपी की हवा में लोगों का घुटने लगा है दम, मौसम वैज्ञानिकों ने दी ये चेतावनी

मेरठ में प्रदूषण की है यह स्थिति

दीपावली से पहले मेरठ में वायु प्रदूषण की स्थिति वैसे ही खराब चल रही थी। दीपावली से पहले मेरठ के ग्रीनरी क्षेत्र जीरो माइल पर पीएम 2.5 की स्थिति 113 व पीएम 10 169 रहा, जबकि कमिश्नरी चौराहे पर यही स्थिति क्रमशः 112 व 150 मापी गर्इ। जब ग्रीनरी क्षेत्रों की यह स्थिति है तो जहां पेड़ नहीं हैं, समझिए वहां वायु प्रदूषण की स्थिति तो आैर भी खराब थी। इसी तरह शहर के अन्य इलाकों में भी वायु प्रदूषण से शहर की हवा खराब थी, लेकिन बुधवार को दीपावली के बाद पटाखों के प्रदूषण ने स्थिति आैर बिगाड़ दी। सरदार वल्लभ भार्इ पटेल कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के प्रभारी डा. यूपी शाही का कहना है कि गुरुवार से पटाखों के प्रदूषण से वेस्ट यूपी-एनसीआर में हवा की गुणवत्ता पर असर पड़ा है।

यह भी पढ़ेंः प्रदेश में महिलाआें के उत्पीड़न को लेकर जागी योगी सरकार, जारी किया यह WhatsApp Number

नए पश्चिम विक्षोभ से बढ़ेगा प्रदूषण

सप्ताहभर से रात के तापमान में कमी आ रही थी। दीपावली पर अधिकतम तापमान 27.4 डिग्री आैर न्यूनतम तापमान 14.2 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आठ नवंबर को एक नया पश्चिम विक्षोभ सक्रिय हो रहा है, जिसके प्रभाव से हवाआें की दिशा बदलेगी। इन हवाआें में नमी होने के कारण वायु प्रदूषण को आैर बढ़ाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned