शर्मनाक: विधवा को लिव-इन में रखने के बाद जब भर गया मन तो बच्चों को सिगरेट से दागा

Highlights

-विधवा के भाई से दुष्मनी निकालने के लिए प्रेम जाल में फंसाया

-तीन महीने तक लिव इन में रखने के बाद शुरू किया प्रताडित करना

-थाना टीपी नगर के किशनपुरा का मामला

By: Rahul Chauhan

Published: 18 Oct 2020, 01:08 PM IST

मेरठ। पड़ोस के ही रहने वाले युवक ने विधवा के भाई से दुश्मनी निकालने के लिए उसको बहला फुसला कर अपने जाल में फंसा लिया। उसके बाद उसके साथ लिव इन में रहने लगा। इतना ही नहीं जब उसका मन भरा गया तो उसने विधवा के बच्चों को और सिगरेट से दागना शुरू कर दिया। किसी तरह विधवा युवक के चंगुल से बंधन मुक्त हुई और परिजनों को फोन पर इसकी सूचना दी परिजनों ने विधवा को बंधन मुक्त कराया और थाना टीपी नगर पहुंचे जहां युवक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई।

मामला थाना टीवी नगर क्षेत्र के किशनपुरा का है। वर्षा यादव नामक युवती की शादी 11 साल पहले जितेंद्र यादव पुत्र भरत लाल यादव देहरादून से हुई और जितेंद्र से युवती के तीन बेटे भी हैं, लेकिन हाल ही में 4 माह पहले ही जितेंद्र यादव की किसी कारणवश मृत्यु हो गई। जिसके बाद युवती अपने घर में अकेली रहने लगी। तभी पड़ोस के ही रहने वाला युवक विक्की गर्ग ने विधवा वर्षा को फोन किया और उससे मिलने लगा।

विधवा को बहला-फुसलाकर उसके बच्चों की देखभाल की जिम्मेदारी लेकर विधवा युवती को अपने घर ले आया। जब विधवा ने शादी के लिए कहा तो युवक ने शादी से इनकार कर दिया और युवती के साथ मारपीट करने लगा। विधवा के बच्चों को सिगरेट से दागना शुरू कर दिया। विधवा ने इसका कारण जानना चाहा तो बताया कि उसके भाई ने उसके खिलाफ किसी मामले में थाने में गवाही दी थी। जिसकी खुंदक विधवा से निकाल रहा है।

विधवा किसी तरह युवक के चंगुल से बंधन मुक्त हुई और परिजनों को इसकी सूचना दी। परिजन पड़ोस के ही रहने वाले युवक के घर में गए और युवती को बंधन मुक्त कराया बंधन मुक्त कराने के बाद भी युवती को थाने लेकर पहुंचे।

वहीं पुलिस का कहना है कि विधवा युवती अपनी मर्जी से युवक के साथ रहने के लिए आई थी जांच में पाया गया है कि युवक—युवती के साथ मारपीट करता था। बच्चों के साथ भी उसने मारपीट की है।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned