देखते ही देखते जेल के बाहर लगा हजारों महिलाओं का तांता, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

Iftekhar Ahmed | Updated: 15 Aug 2019, 05:07:14 PM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

  • महिलाओं ने भाइयों को राखी बांधकर लिया अपराध छोड़ने का वादा
  • जिला कारागार में बहनों ने भाइयों को बांधी राखी
  • सुबह से ही लगी थी महिलाओं की लंबी लाइनें
  • जेल प्रशासन ने किए थे जेल के भीतर विशेष इंतजाम

मेरठ. देशभर में गुरुवार को रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) और 15 अगस्त का त्योहार (independence day) धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस दौरान रक्षा बंधन के मौके पर बहनों ने जहां भाइयों को रक्षा सूत्र बांधकर अपनी रक्षा का वचन लिया। वहीं, 15 अगस्त के मौके पर जगह-जगह ध्वजारोहण कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसी सिलसिले में मेरठ जिला कारागार में भी दोनों ही पर्व धूमधाम के साथ मनाए गए। जिला कारागार प्रशासन ने पर्वों को मनाने की पूरे इंतजाम किए हुए थे। कारागार प्रशासन रक्षा बंधन की तैयारियों में एक दिन पूर्व से ही जुटा हुआ था। बैरिकेटिंग और टेंट की व्यवस्था बुधवार से ही की जा रही थी।

यह भी पढ़ें: 73वें स्वतंत्रता दिवस पर मदरसे के बच्चों ने ऐसे मनाया जश्न कि सभी जगह हो रही है चर्चा, आप भी देखें वीडियो

आज गुरुवार को सुबह से ही कारागार में बहनों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी। सुबह नौ बजे तक सैकड़ों की संख्या में महिलाएं कारागार के बाहर एकत्र हो गई थी। महिलाएं अपने साथ खाने का सामान और राखियां लेकर आई थी। भीड़ को देखते हुए कारागार अधीक्षक बीडी पांडे ने खुद ही बाहर आकर पूरी व्यवस्था संभाली हुई थी। जेल के बाहर महिला पुलिसकर्मियों को भी लगाया था, ताकि व्यवस्था सुचारू रूप से रहे।

यह भी पढ़ें- स्वतंत्रता दिवस से पहले हथियारों के जखीरे के साथ युवक का फोटो वायरल, पुलिस में मचा हड़कंप

नौ बजे के बाद महिलाओं ने भीतर प्रवेश किया
सुबह नौ बजे के बाद जेल के भीतर प्रवेश की सभी प्रक्रिया पूरी होने के बाद महिलाओं ने जेल के भीतर प्रवेश किया। जेल के भीतर महिलाओं ने अपने भाइयों को राखियां बांधी और उनको मिठाई खिलाई। बहनों ने जब भाइयों को राखी बांधी तो भाई-बहनों की आंखे भर आई। बहनों ने भाइयों से इस दौरान वचन लिया कि अपराध की दुनिया से तौबा कर एक सीधे नागरिक का जीवन व्यतीत करेंगे।

दारुल उलूम देवबन्द के खिलाफ नफरत फैलाने वाले पोस्ट वायरल करने वालों को पुलिस ने ऐसे सिखाया सबक

मुस्लिम महिलाएं भी राखी लेकर पहुंची जेल
जेल में इस बार मुस्लिम महिलाओं की संख्या भी काफी दिखाई दी। वे भी जेल में राखी लेकर पहुंची और अपने भाइयों को राखी बांधी। जेल के बाहर मुस्लिम महिलाएं बुरके लगाकर लाइन में लगी हुई थी। जेल प्रशासन ने पूरी जांच के बाद उनको जेल के भीतर जाने दिया। इस मौके पर जेल अधीक्षक बीडी पांडे ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस बार भी जिला कारागार की ओर से रक्षा बंधन के मौके पर कारागार में बंद उनके भाइयों के मिलने की व्यवस्था कराई गई है। कारागार के भीतर या बाहर किसी भी महिला को कोई परेशानी न हो इसके भी इंतजाम किए गए हैं। इसके साथ ही महिला पुलिस की भी तैनाती की गई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned