इस तरह मेरठ के मनु जैन ने एक रात में कमाए 320 करोड़

इस तरह मेरठ के मनु जैन ने एक रात में कमाए 320 करोड़

Virendra Kumar Sharma | Publish: Jul, 11 2018 02:14:20 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

आईआईटी दिल्ली से 2003 में मैकेनिकल इंजीनियरिंग से बीटेक की डिग्री हासिल करने वाले मेरठ के मनु जैन ने 2007 में आईआईएम कोलकाता से मैनेजमेंट की पढ़ाई की थी

मेरठ. आईआईटी दिल्ली से 2003 में मैकेनिकल इंजीनियरिंग से बीटेक की डिग्री हासिल करने वाले मेरठ के मनु जैन ने 2007 में आईआईएम कोलकाता से मैनेजमेंट की पढ़ाई की थी। वह समय हुआ करता था, जब जब स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी Xiaomi चीन में अपना कदम रख रही थी। मनु जैन को फोन की ज्यादा जानकारी न होने की वजह से करियर की शुरूआत एसी से की। उसके बाद मनु जैन जेबॉन्ग जैसी आॅनलाइन रिटेलर कंपनी से जुड़ गए। प्रतिभा के चलते जेबॉन्ग के को-फाउंडिंग मेंबर्स में शामिल हुए। उसी दौरान Xiaomi कंपनी भारत में अपनी संभावना तलाश रही थी। कंपनी को उस समय मनु जैन का साथ मिला।

यह भी पढ़ें: मुन्‍ना बजरंगी हत्‍याकांड: सुनील राठी ही नहीं बल्कि इनसे भी खौफ खाता है वेस्‍ट यूपी

कंपनी ने उन्हें बतौर कंट्री हैड के तौर बना दिया। कंपनी हैड बनने के बाद में मनु ने अपनी अपना लोहा मनवाना शुरू कर दिया और अपनी मार्केटिंग स्‍ट्रैटजी को बदला। हालाकि उस दौरान चीन में प्रोडेक्ट का देश में प्रभाव कम होने लगा था। माहौल के बाद भी मनु जैन ने मार्केटिंग का तरीका बदलस और कपंनी को उपर ले गए। कंपनी को भारतीय बाजार में ख्याती दिलाने में मनु जैन का अहम योगदान रहा था। कुछ समय में ही यह भारतीय बाजार में देश की सबसे ज्‍यादा स्‍मार्टफोन बेचने वाली कंपनी के तौर पर सामने आई।

Xiaomi का एमआई सीरिज है काफी पंसदीदा

काउंटर पॉइंट की हालही में जारी हुई के मुताबिक साल 2018 में स्मार्टफोन बाजार में Xiaomi ने सैमसंग को पीछे छोड़ते हुए 31 प्रतिशत शेयर बाजार पर अपना अधिकार जताया है। यह रिपोर्ट हाल ही में ही जारी की गई थी। रिपेार्ट की माने तो सैमसंग कंपनी की मार्केट बढ़ी है, लेकि‍न 2017 की पहली ति‍माही के मुकाबले महज 0.3 फीसदी रही है। इसके अलावा Xiaomi की मार्केट 2017 की पहली ति‍माही के 13.1 फीसदी से बढ़कर 31.1 फीसदी हो गई है। कंपनी की तरफ से देश में सबसे ज्यादा एमआई सीरिज के फोन काा उत्पादन हुआ। यह लोगों को काफी पंसद भी आया है।

हॉन्ग कॉन्ग में Xiaomi की तरफ से 9 जुलाई को शेयर बाजार में लिस्टिंग हुई थी। कंपनी की शेयर बाजार में हुई लिस्टिंग से मेरठ के रहने वाले मनु जैन को रातों-रात अरबपति बना दिया है। लिस्टिंग के दौरान मनु को 320 करोड़ मिले हैं। हालाकि शेयर बाजार में लिस्टिंग के बाद कंपनी के शेयर्स में करीब पांच फीसदी की गिरावट आई है। उसके बाद भी मेरठ को फायदा हुआ है। यूपी के मेरठ के रहने वाले कंपनी के ग्‍लोबल वाइस प्रेसिडेंट मनु जैन अचानक इंडिया के एमडी हैं। कंपनी की तरफ से उन्हें ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट की जिम्मेदारी सौंपी गइ्र है। कंपनी के सद्सय रहते हुए लिस्टिंग के बाद 320 करोड़ रुपये मिले है।

यह भी पढ़ें: मुन्ना बजरंगी को नहीं ले जाया गया था अस्पताल

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned