यूपी के मिर्जापुर से छत्तीसगढ़ जा रहे 5 ट्रक पकड़ाए, अधिकारियों ने देखा अंदर तो खुली रह गई आंखें

यूपी से छत्तीसगढ़ तक इसका होता है व्यापार, मिलती है मोटी रकम

By: sarveshwari Mishra

Published: 16 Nov 2017, 02:09 PM IST

मिर्जापुर. धान की जमाखोरी करने के लिए यूपी से छत्तीसगढ़ भेजा जा रहा पांच ट्रक उत्तरप्रदेश-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर स्थित धनवार बैरियर पर प्रशासनिक टीम के मुखबिर की सूचना पर यूपी से छत्तीसगढ़ जा रही 5 ट्रकों को रुकवाकर जांच की गई तो उसमें 1200 क्विंटल धान निकला। जो महाराष्ट्र ले जाया जा रहा था। प्रशासन ने इसे हेराफेरी की आशंका बताते हुए बसंतपुर थाने में जब्द कर लिया है। एसडीएम का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

 

 

धान बेचकर कमाते हैं मोटी रकम

बतादें कि छत्तीसगढ़ में धान की कीमतों व इस पर मिलने वाले बोनस को देखते हुए बिचौलिए भी सक्रिय हो गए हैं। वे दूसरे प्रदेशों से धान लाकर यहां के किसानों के नाम से धान खरीदी केंद्रों में सेटिंग कर खपाकर मोटी रकम कमाते हैं। ऐसा पहले भी कई बार हो चुका है। इधर शासन-प्रशासन द्वारा इस वर्ष छत्तीसगढ़ के बॉर्डरों पर ऐसे लोगों पर विशेष नजर रखी जा रही है।

 

 

 

यूपी के मिर्जापुर से जा रहा था अनाज का खेप

इसी कड़ी में बलरामपुर-रामानुजगंज प्रशासन को मुखबिर से सूचना मिली कि यूपी के मिर्जापुर से बड़ी मात्रा में धान की खेप आ रही है। सूचना मिलते ही फूड इंस्पेक्टर मंगेश व नायब तहसीलदार जयेंद्र सिंह अंबिकापुर-बनारस मार्ग पर स्थित धनवार बैरियर पर दल-बल के साथ पहुंच गए। इस दौरान उत्तर प्रदेश की ओर से 5 ट्रक आते दिखाई दिए। तब अधिकारियों ने उन्हें रुकवाकर पूछताछ शुरू कर दी। ड्राइवरों ने धान होने की बात बताई कहा कि वे धान रायपुर व महाराष्ट्र ले जा रहे हैं। फूड इंस्पेक्टर व नायब तहसीलदार ने हेराफेरी की शंका जताते हुए ट्रकों को जब्त कर उन्हें बसंतपुर थाने के सुपुर्द कर दिया है। ट्रकों में 1200 क्विंटल धान है।

 

 

 

प्रशासन ने ट्रकों को किया जब्त

प्रशासन द्वारा जिन 5 ट्रकों को जब्त किया गया है उनमें सीजी 15 एसी-4081, सीजी 12 एस-2853, सीजी 12 एस-2842, सीजी 15 बीसी-9094 व सीजी 15 डीडी-6494 शामिल हैं। इस संबंध में एसडीएम अनिल कुमार सिदार का कहना है कि धनवार बैरियर पर 5 ट्रक धान पकड़ा गया है। एसडीएम ने कहा है कि जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned