नोटबंदी जैसे बन रहे हालात: बैंक और एटीएम में पैसे की किल्लत मुख्य प्रबंधन ने आरबीआई पर उठाये सवाल

Ashish Shukla

Publish: Apr, 17 2018 06:32:13 PM (IST)

Mirzapur, Uttar Pradesh, India

मिर्ज़ापुर. देश के कई राज्यों में कैश का संकट गहराता जा रहा है। मिर्जापुर जिले में भी कैश के लिए लोग परेशान हैं लेकिन न तो बैंकों से लोगों को पैसे मिल पा रहे हैं और एटीएम में नो कैश का बोर्ड भी लोगों को परेशान कर रहा है।बतादें कि पिछले दो दिनों से अचानक बैंक के एटीम बंद होने से पैसे के लिए अफरा-तफरी का मची है। ज्यादा से ज्यादा एटीएम खाली हैं। कुछ एक एटीएम जिनमें पैसे हैं भी वहां लोगों की इतनी कतार है कि पैसे लेने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। ऐसे हाल में एक बार फिर लोगों के सामने नोटबंदी जैसे हालात बन रहे हैं।

इस बात के लेकर पत्रिका ने शहर में डंकिनगंज, कटरा, कचहरी, रेलवे स्टेशन के आस-पास विभिन्न बैंकों के करीब दर्जनों एटीएम की हकीकत जाननी चाही तो पता चला कि 90 फीसदी से अधिक एटीएम में पैसे नहीं हैं। वहीं पैसे के लिए एटीएम के चक्कर काट रहे महेन्द्र कहते हैं कि पैसे के लिए भारी परेशानी हो ही है। लेकिन पैसे मिल नहीं पा रहे हैं। जिसकी वजह से काम नहीं हो पा रहा है।

पैसे कि किल्लत को लेकर जब पत्रिका ने डंकिनगंज स्थित भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य प्रबंधक देवेंद्र कुमार से बात किया तो उन्होने इसके लिए आरबीआई को ही जिम्मेदार ठहरा दिया। इनका कहना था कि आरबीआई के पास पैसे नहीं हैं। समस्या के बारे में लगातार अधिकारियों को बताया जा रहा है लेकिन कोई हल नहीं निकाला गया।

Ad Block is Banned