Yogi Adityanath राज में पाकिस्तान मुर्दाबाद का लगाया नारा, तो प्रशासन ने भेजा नोटिस

  Yogi Adityanath राज में पाकिस्तान मुर्दाबाद का लगाया नारा, तो प्रशासन ने भेजा नोटिस
Jagarnath Seva Samiti

Yogi Adityanath राज में इन दिनों जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने पर District Administration और समिति के आयोजक के बीच विवाद गहरा गया है।

मिर्जापुर. जिस नारे ने BJP को केंद्र से लेकर राज्यों में परचम लहराने में मदद की है, पार्टी का हर कार्यकर्ता बड़े गर्व से यह नारा लगता हो, उसी नारे को लेकर इन दिनों घमासान मचा हुआ है। जिले में इन दिनों जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने पर District Administration और समिति के आयोजक के बीच विवाद गहरा गया है।


मामले को लेकर जिला प्रशासन और Jagarnath Sewa Samiti के सदस्य आमने-सामने है। विवाद ने तब तूल पकड़ा जब जिला मजिस्ट्रेट देवेंद्र प्रताप मिश्रा ने 25 जून को शहर में जगरनाथ यात्रा निकालने के दौरान खजांची चौराहे पर स्थित एक धार्मिक स्थल और समुदाय विशेष के बस्तियों के सामने पहुंचने पर जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने पर यात्रा संचालन कर रही कमेटी को नोटिस भेज कर जबाब मांग लिया।





आयोजन समिति के कार्यक्रम प्रभारी गौरव उमर को नोटिस भेजकर सिटी मजिस्ट्रेट ने जबाब मांगा है। नोटिस के अनुसार यात्रा के दौरान एक धार्मिक स्थल और समुदाय विशेष के इलाकों में जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए जो शांति व्यवस्था के लिए गंभीर है। नोटिस मिलते ही आयोजन समिति में खलबली मच गई। 18 जुलाई को बुढेनाथ मंदिर में बैठ कर सदस्यों ने इस नोटिस के विरोध में प्रदर्शन करने का निर्णय लिया और  बुधवार को आयोजन समिति के लोगों ने मुंह पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताते हुए कलेक्ट्रेट परिसर में प्रदर्शन किया । इस दौरान कलेक्ट्रेट परिसर में जमकर जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। वहीं नोटिस भेजने वाले सिटी मजिस्ट्रेट के साथ हल्की नोकझोंक भी हुई।

यह भी पढ़ें:
अगर आप भी करते हैं फेसबुक और ट्विटर पर ऐसे पोस्ट, तो यह खबर आपके लिये जरूरी है


मामले पर नोटिस देने वाले सिटी मजिस्ट्रेट देवेंद्र प्रताप मिश्रा का कहना है कि सीओ सिटी की जांच और पुलिस के पास उपलब्ध वीडियो के आधार पर यह देखा गया कि इस यात्रा में आयोजन की अनुमति लेते समय शर्तों का पालन किया जाना चाहिए था। मगर इन लोगों ने तय समय चार बजे यात्रा निकालने के बजाय 5.45 पर यात्रा निकाली जबकि आगे एक धार्मिक स्थल पर नमाज चल रहा था। अनुरोध के बाद भी यह लोग धार्मिक स्थल के पास रूक कर जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे, जो माहौल बिगाड़ने की कोशिश थी।

यह भी पढ़ें:
यूपी के जौनपुर में सिरफिरे पति ने दो बच्चों और पत्नी को कुल्हाड़ी से काट डाला


वहीं नोटिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने वाले आयोजक समिति के कार्यक्रम प्रभारी गौरव उमर का कहना है कि प्रशासनिक दुर्व्यवस्था से यात्रा को वहां रुकना पड़ा था। इसी दौरान कुछ लोगों ने नारेबाजी की थी, जिसे अब जिला प्रशासन तूल दे रहा है। 19 जुलाई को नोटिस का जवाब देना था मगर अभी तक समिति के लोगों ने जवाब नहीं दिया है। कहा जा रहा है कि आयोजन समिति से जुड़े लोग सत्ताधारी दल से भी संबंधित है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned