Video मिर्जापुर की बेटी ने लद्दाख की चोटी पर फहराया तिरंगा, स्वागत में उमड़े सैकड़ों लोग 

स्वागत में उमड़े सैकड़ों लोग , जगह-जगह लोगों ने उतारी आरती...

मिर्जापुर. लद्दाख की ऊँची बर्फीली चोटीयों पर टीम के साथ भारत का  तिरंगा फहराने वाली बेटी जब घर पहुंची  तो स्वागत में  पूरा गांव उमड़ पड़ा।



सोमवार को देर शाम वाराणसी शक्तिनगर राजमार्ग के रस्तोगी तालाब के हिनौती माफी मार्ग पर अपने गाँव हिनौती माफी पहुंचने पर काजल का जोदार स्वागत हुआ। वहां मौजूद सैकड़ों की तादात में गाँव के लोगों ने आरती उतारकर जिले और प्रदेश का  गौरव बढ़ाने वाली बेटी  का गाजे बाजे के साथ और गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।




इतना ही नहीं रस्तोगी तालाब से हिनौती गाँव के बीच दो किलोमीटर की दूरी में काजल पटेल का लोगों ने जगह जगह आरती उतारकर स्वागत किया। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय वाराणसी के 7यूपी एयर स्ववाड्रन एनसीसी की कैडेट काजल ने बताया की 15600 फीट कैम्प-1पर पहुचने पर बर्फीली बारिश होने से चार दिन गुजारने के बाद एक जुलाई को लद्दाक की चोटी वह और उसकी पूरी टीम पहुंची थी। 



इस दौरान बीच बीच में बर्फ की दरारे भी थीं, जिन्हें पार करते हुए टीम के साथ जब वह चोटी पर सभी की दुाआएं और आशीर्वाद से हमारी टीम ने तिरंगा लहराया। काजल उस क्षण को जिंदगी का सबसे अहम पल बताते हुए कहा कि यह जिंदगी भर न भूलने वाला पल था। काजल हिनौती माफी गाँव के किसान संतराम सिंह की बेटी है। इस समय वाराणसी रह कर पढ़ाई कर रही है।
Show More
ज्योति मिनी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned