महिलाओं को शर्मिंदगी का एहसास कराता है ये सरकारी शौचालय

मिर्जापुर में ऐसा बना है आंगनबाड़ी का शौचालय, जिसमें दरवाजा बंद रहने पर भी बाहर से बाहर से दिखता है।

By: रफतउद्दीन फरीद

Published: 09 Dec 2017, 08:21 PM IST

Mirzapur, Uttar Pradesh, India

मिर्जापुर. स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूरे यूपी में शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। इन शौचालयों को कहीं-कहीं इज्जत घर का नाम दिया गया है, जिसकी सराहना खुद वाराणसी दौरे के दौरान प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया था। पर जिले के अधिकारियों की करामात ही कहेंगे कि गांवों में बने इन शौचालायों का निर्माण ऐसे करवाया गया है कि इन्हें इज्जत घर कहने में 10 बार सोचना पड़ सकता है। ऐसा ही एक शौचालय मिर्जापुर के कोन ब्लॉक के लखनपुर गांव के स्कूल स्थित आंगनवाड़ी केंद्र में बनाया गया है, जहां शौच के दौरान बाहर से कोई भी बड़े आराम से देख सकता है। हालांकि ग्राम प्रधान का दावा है कि आंगनबाड़ी में बच्चों को देखते हुए ऐसा शौचालय बनाया गया है। पर आंगनबाड़ी की महिलाएं कहां जाएंगी इस बारे मे उनके पास कोई जवाब नहीं था।

 

Toilet

 

केन्द्र में बने शौचालय में जो दरवाजा लगाया गया है कि उपर के साथ ही नीचे भी बड़ा सा झरोखा बनाया गया है। यह झरोखा ही शौचालय का इस्तेमाल करने वालों के लिए मुसीबत बन गया है। इसमें बैठने वाले को बाहर से कोई भी देख सकता है। शौचालय के दरवाजे में ऊपर के साथ नीचे भी झरोखा लगाने कि इंजीनियरिंग पर हर कोई हैरान है। यह शौचालय लखनपुर गांव में स्वच्छ भारत मिशन के तहत आंगनबाड़ी केंद्र में बना हुआ है। इसका इस्तेमाल ज्यादातर महिलाएं ही करती हैं।


खास बात यह है कि आंगनबाड़ी केंद्र में यह शौचालय बने होने के चलते महिलाओं को भी इसी का उपयोग करना होता है। बतादें कि जिले में इस समय स्वछता अभियान के तहत गांवों में शौचालय का निर्माण किया जा रहा है। इसमें जिले के 12 विकास खण्ड में से सीखड़ ब्लाक को पहले ही ओडीएफ यानि खुले में शौच मुक्त घोषित किया जा चुका है। इस समय चील्ह ब्लाक में काम तेजी से हो रहा है। पर इस तेजी और खानापूर्ति के चक्कर मे इन तरह के शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। जिसे देखकर लोग हैरान हैं।


इस मामले में जब लखनपुर के ग्राम प्रधान साबिर अहमद से इस तरह शौचालय बनाने पर सवाल किया गया तो पहले वह पत्रकारों पर भड़क गए। इसके बाद उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर छोटे बच्चे होते हैं, इसी की वजह से ऐसे शौचालय बनाये जाते हैं, ताकि बच्चों को कोई परेशानी न हों।
by Suresh Singh

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned