विकास योजनाओं को लेकर हो रही थी बैठक, सो रहे थे अधिकारी

विकास योजनाओं को लेकर हो रही थी बैठक, सो रहे थे अधिकारी
Meeting

मंत्री ने कहा पिछली सरकारों ने की जनहित कार्यो की उपेक्षा

मिर्जापुर. सूबे के अधिकारी सरकार की जनहित और विकास योजनाओं को लेकर कितना लापरवाह हैं, इसका नजारा जिला पंचायत सभागार में आयोजित जिला योजना की बैठक में देखने को मिला। बैठक में शामिल होने आए जिले के प्रभारी मंत्री और प्रदेश के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल की बैठक के दौरान कई अधिकारी  सोते हुए नजर आए।

जिला पंचायत सभागार में आयोजित योजना समिति की बैठक में जहां एक तरफ जिले की विकास योजनाओं की क्रम वार मंत्री जी समीक्षा कर रहे थे, वहीं  बैठक के दौरान कई अधिकारी झपकी लेते और सोते नजर आए। लगभग 3 घंटे चली इस बैठक में भाग लेने के लिए जिले के सभी विभागों से अधिकारियों को बुलाया गया था। साथ ही इस दौरान  बैठक में जिले के जनप्रतिनिधि विधायक और जिला पंचायत अध्यक्ष भी मौजूद रहे मगर इसका इन अधिकारियों कोई  कोई फर्क नही पड़ा।


यह भी पढें: डेढ़ लाख के लिए पति ने फोन पर दिया तलाक, योगी दरबार पहुंची कादिरा बानो


 



पीछे की पंक्ति में बैठे अधिकारी बैठक के दौरान झपकी भी ले रहे थे। वहीं बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि पिछली सरकारों में जनहित की उपेक्षा हुई है। उन्होंने जिले के पर्यटन की बेहतरी के लिए जल्द ही योजनाओं को लाने की बात भी कही है। उन्होंने कहा कि यहां धार्मिक पर्यटन के लिए बहुत सम्भावना है। पर्यटकों को वाराणसी से बस दौरा ले आ कर यहां यहां के पर्यटन स्थलों पर भ्रमण करने की योजना आने वाले समय मे बनाई जाएगी।। बैठक के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमिला सिंह, नगर विधायक रत्नाकर मिश्रा, मड़िहान विधायक रामशंकर पटेल, चुनार विधायक अनुराग सिंह और जिला अधिकारी विमल दुबे ,सीडीओ प्रियंका निरंजन ,पुलिस अधीक्षक नितिन तिवारी सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned