दुनिया भर के श्रद्धालु अब कर सकेंगे मां विंध्यवासिनी का ऑनलाइन दर्शन-पूजन

देश के दूसरे बड़े मंदिरों की तर्ज़ पर जल्द ही मिर्ज़ापुर के विंध्यचल स्थित मां विंध्यवासिनी मंदिर में भी लाइव दर्शन की सुविधा शुरू होने वाली है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मिर्जापुर. वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर की तर्ज पर अब मिर्जापुर के विंध्याचल स्थित मां विंध्यवासिनी का भी अब ऑनलाइन दर्शन (Live Darshan will be start soon in Vindhyavasini Temple) किया जा सकेगा। कोरोना संक्रमण के तीव्र प्रसार को देखते हुए मां विन्ध्यवासिनी मंदिर में भी जल ऑनलाइन दर्शन-पूजन का इंतजाम किया जा रहा है। विंध्य काॅरिडोर निर्माण कार्य के बीच ऑनलाइन दर्शन व्यवस्था होने से श्रद्घालुओं को भी आसानी होगी।


घर बैठे ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था अब तक काशी विश्वनाथ मंदिर, उज्जैन के महाकाल मंदिर मां वैष्णो देवी मंदिर और तिरुपति बालाजी समेत देश भर के विभिन्न मंदिरो में लाइव दर्शन-पूजन का लाभ श्रद्घालु पहले से ले रहे हैं। अब ये सुविधा विंध्यवासिनी मंदिर विंध्याचल में भी जल्द ही शुरू हो जाएगी। मां विंध्यवासिनी मंदि से लाइव दर्षन के लिये मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र की अगुवाई में अधिकारियों की बैठक में खाका खींचा जा चुका है। अब इसपर अमल भी तेजी से किया जा रहा है।

 

Vindhyavasini Temple Darshan in Navratri
विंध्यवासिनी मंदिर में नवरात्री दर्शन की भीड़ IMAGE CREDIT:

 

ऑनलाइन दर्शन के लिये झांकी दर्शन के लिये बनी खिड़की के पास सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इसके लिये बाकायदा एक अलग वेबसाइट तैयार की जाएगी। लाइव दर्शन के लिये उस वेबसाइट पर विजिट करना होगा वहां लाइव दर्शन का लिंक या फिर टैब बना हो सकता है जिसपर क्लिक करते ही लाइव दर्शन होगा। ऑनलाइन दर्शन की सुविधा शुरू होने से सबसे ज्यादा सहूलियत विदेशों में बसे लोगों को होगी जो मां विंध्यवासिनी के भक्त हैं। कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र का कहना है कि ऑनलाइन दर्शन-पूजन की व्यवस्था हो रही है। सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इससे दुनिया के कोने-कोने में बसे भक्त मां विंध्यवासिनी का दर्शन-पूजन कर सकेंगे।


विंध्याचल मंदिर में नवरात्रि शुरू होने के पहले ही कोविड टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। जो भी दर्शन करने आएगा उसे प्रवेश के पहले 48 घंटे पुरानी कोविड नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। सिटी मिस्ट्रेट विनय कुमार सिंह का कहना है कि बिना इस रिपोर्ट के लोगों को मंदिर दर्शन की अनुमति नहीं होगी। नवरात्र के पहले दिन भीड़ ज्यादा थी, लेकिन अब कोविड के चलते लोगों की संख्या कम हो गई है। इस दौरान विंध्य काॅरिडोर का काम तेजी से चल रहा है। निर्माण कार्य के लिये जमीनें खाली कराई जा रही हैं। विंध्य काॅरिडोर 2022 तक इसे पूरा करने की बात कही जा रही है। काॅरिडोर का प्रस्तावित नक्शा तैयार कर मुख्यमंत्री तक भेजा जा चुका है अब वहां मंजूरी का इंतजार है।

By Suresh Singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned