भीड़ की पिटाई से दो की मौत: पांच को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा

अन्य लोगों की भी की जा रही पूछताछ, पांच दिन पहले की गई दो लोगों की हत्या

मिर्ज़ापुर. अहरौर थाना क्षेत्र के खाजगीपुर गांव में बारातियों द्ववारा पीट-पीटकर दो लोगों की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। घटना में शामिल पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 6 नवंबर 2019 कछंवा के छितकपुर से खाजगीपुर गांव में बारात आई थी। । बारात के दौरान साठ वर्षीय वृद्ध समर सिंह की सड़क पार करते समय ट्रक के चपेट में आने से मौत हो गई थी।

ट्रक चालक तो वहां से फरार हो गया। इसी बीच सड़क से गुजर रही दूसरे ट्रक चालक को बारातियों ने उतार लिया। ये ट्रक चालक इसी गांव का रहने वाला था। बारातियों ने उसी गांव के ट्रक चालक सुरेंद्र सिंह को बारातियों ने पकड़ लिया। चालक सुरेन्द्र सिंह को बाराती बुरी तरह से पीटने लगे। इसी बीच सुरेन्द्र के भाई सरोज भी वहां जा पहुंचे। वो भीड़ से लगातार गुहार करते रहे कि सुरेन्द्र को छोड़ दिया जाय। लेकिन बारातियों ने सरोज को भी अपनी जद में ले लिया। उनपर भी हमला शुरू कर दिया। पचासों लोगों की भीड़ दोनों को इस कदर पीटा कि दोनों अधमरे हाल में हो गये। घायलावस्था में इलाज के लिए वाराणसी ट्रामा सेंटर में दाखिल कराया गया। जहां सरोज की बुधवार को और सुरेंद्र की शुक्रवार को मौत हो गयी।

पुलिस ने मामले में छह नामजद और पच्चीस अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही थी। मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने हत्या के आरोपित अंकित कुमार सिंह पुत्र महेश सिंह, शेखर सिंह व शमशेर सिंह पुत्र छोटेलाल, बॉबी कुमार सिंह पुत्र सतीश कुमार सिंह निवासी छितकपुर कछवा और रवि शंकर सिंह पुत्र प्यारेलाल सिंह निवासी पचराव को चुनार से गिरफ्तार कर लिया है। सभी को जेल भेज दिया गया। पुलिस का कहना है कि अन्य हमलावरों को लेकर भी पूछताछ की जा रही है। उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

Ashish Shukla
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned