मिर्जापुर में गिरफ्तार संदिग्धों से पूछताछ जारी, अब पुलिस ने किया यह खुलासा

फकरूदीन को NIA ने 2014 में छोटा मिर्ज़ापुर से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार दोनों में से शेरअली आतंकी फकरूदीन का भाई है।

By: ज्योति मिनी

Updated: 19 Sep 2017, 06:07 PM IST

मिर्ज़ापुर. जनपद पुुुलिस ने अवैध विस्फोटक के साथ दो लोगों को कटरा कोतवाली के गैबीघाट मोड़ से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गए दोनों व्यक्ति शेरअली और सज्जू शहर के छोटा मिर्जापुर के रहने वाले हैं। पटना में 2013 में हुए सिलसिलेवार बम ब्लास्ट के मामले में आरोपी फकरूदीन के रिश्तेदारदार हैं। फकरूदीन को NIA ने 2014 में छोटा मिर्ज़ापुर से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार दोनों में से शेरअली आतंकी फकरूदीन का भाई है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए दोनों से कटरा कोतवाली में एटीएस वाराणसी क्राइम ब्रांच और आईबी ने रात भर दोनों से पूछताछ की। फिलहाल अभी दोनों के आतंकी फकरुद्दीन से कोई कनेक्शन नहीं मिला है। फिलहाल इसकी जांच चल रही है।

पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में पूरे मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बताया कि, इसके भाई फकरुद्दीन पटना ब्लास्ट के अंदर अभियुक्त है। यह मामला काफी संवेदनशील है। 22 सितंबर को पीएम और सीएम की यात्रा वाराणसी में है। साथ ही 21 सितंबर से मिर्ज़ापुर में विंध्यचाल में नवरात्रि है। इन्हीं सब की वजह से यह मामला काफी संवेदनशील है।

 

जिसमें सभी जांच एजेंसियों ने दोनों से पूछताछ की है। पुलिस आगे रिमांड लेकर और पूछताछ करेगी। यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है। वहीं पुलिस दोनों से बरामद 7.5 किलो बारूद को जांच के लिए लैब में भेजने की तैयारी कर रही है। लैब टेस्ट की रिपोर्ट आने के बाद ही सच्चाई का पता चलेगा। दरसल, पूरे मामले में क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि कटरा कोतवाली में अवैध विस्फोटक का भंडारण किया गया है।

जिसपर सक्रिय हुई पुलिस ने लगभग साढ़े सात किलो विस्फोटक और भारी मात्रा में पटाखे बरामद करते हुए दोनों को पकड़ा। पकड़े गए दोनों ने बताया कि, उनका विस्फोटक का लाइसेंस है। जिससे पटाखे बना कर बेचने का कार्य करते हैं। मगर जांच के बाद पता चला कि, विस्फोटक एक्ट के अंतर्गत 2014 में इनका लाइसेंस एक्सपायर कर चुका है। गिरफ्तार सभी शहर के कटरा कोतवाली अंतर्गत छोटा मिर्ज़ापुर के रहने वाले हैं। फिलहाल मामला संवेदनशील होने के कारण पुलिस हर पहलुओं की जांच पड़ताल कर रही है।

INPUT -सुरेश सिंह  

ज्योति मिनी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned