पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर को लेकर यादव महासभा का प्रदर्शन, कहा- निर्दोष लोगों का हो रहा उत्पीड़न

Sarweshwari Mishra | Publish: Oct, 11 2019 03:58:53 PM (IST) Mirzapur, Mirzapur, Uttar Pradesh, India

अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा विंध्याचल मंडल के कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर झांसी जिले में पुष्पेंद्र यादव के फर्जी एनकाउंटर की सीबीआई जांच कराने की मांग की है

मिर्ज़ापुर. झांसी में हुए पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर मामले पर विरोध बढ़ता ही जा रहा है। आज अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा विंध्याचल मंडल के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर झांसी जिले में पुष्पेंद्र यादव के फर्जी एनकाउंटर की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश में लगातार लूट हत्या बलात्कार जैसी घटनाएं हो रही हैं प्रदेश में यादव महासभा सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है। महासभा के मंडल अध्यक्ष श्याम मोहन यादव ने विरोध प्रदर्शन के बाद कहा कि पुलिस द्वारा घटनाओं में लिप्त लोगों की गिरफ्तारी नहीं की जा रही है। ऐसी घटनाओं में निर्दोष लोगों को भी मनाकर कोटा पूरा कर लेती है। उन्होंने मांग किया कि पुष्पेंद्र यादव के परिवार को 25 लाख का मुआवजा व सरकारी नौकरी दिया जाए। वहीं कार्यकर्ताओं ने दरोगा धर्मेंद्र सिंह चौहान पर व्यक्तिगत धनउगाही कि वजह से अपने स्टाप के साथ मिलकर पुष्पेंद्र यादव का फर्जी एनकाउंटर कर दिया।


ज्ञापन के माध्यम से अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा ने मांग किया कि आरोपी धर्मेंद सिंह चौहान को नौकरी से तत्काल बर्खास्त करके उनपर धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज किया जाय और हाईकोर्ट के सिटिंग जज से पूरे मामले की जांच करवाई जाय। जो भी जांच में दोषी निकले उसे जेल भेजा जाय। महासभा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था और पुलिसिंग पर भी सवाल उठाया और कहा कि सबसे अधिक मानवाधिकार आयोग की नोटिस उत्तर प्रदेश की सरकार को मिला है। प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है। ज्ञापन देने वालों में दिलीप कुमार यादव एडवोकेट शिव कुमार कृष्ण मुरारी सिंह एडवोकेट विजय कुमार यादव रंजीत फौजी सिद्धांत यादव रहे। वहीं इसी मामले पर आज आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भी कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते हुए झांसी जिले में पुष्पेंद्र यादव के फर्जी एनकाउंटर की सीबीआई जांच कराने की मांग की है पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश में लगातार लूट हत्या बलात्कार जैसी घटनाएं हो रही हैं प्रदेश में आम आदमी सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है। पुलिस द्वारा घटनाओं में लिप्त लोगों की गिरफ्तारी के बजाय निर्दोष लोगों का उत्पीड़न और एकाउंटर हो रहा है। कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौंपने वालो में दिनेश चौबे समीर एडवर्ड राजेंद्र तिवारी ज्ञान प्रकाश पांडे सागर पाल लाल बहादुर आदि रहे।


BY-Suresh Singh

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned