ऋषिकेश एम्स में कई डॉक्टर्स समेत 110 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव

ऋफिकेष एम्स के 100 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इतनी बडी संख्या में स्वास्थ्यकर्मियों के संक्रमित होने से एम्स प्रशासन की चिंता बढ गई है।

ऋषिकेष। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों के अस्पतालों में बेड्स व ऑक्सीजन की कमी से हाहाकार मचा है। वहीं दूसरी तरफ इस संक्रमण की चपेट में कई अस्पतालों के डॉक्टर्स व स्वास्थ्यक्रमी आ चुके हैं।

इसी कड़ी में उत्तराखंड के ऋषिकेष स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में कोरोना महामारी का कहर बरपा है। ऋफिकेष एम्स के 100 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इतनी बडी संख्या में स्वास्थ्यकर्मियों के संक्रमित होने से एम्स प्रशासन की चिंता बढ गई है।

यह भी पढ़ें :- सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाला AIIMS का स्टूडेंट निलंबित

जानकारी के अनुसार, ऋषिकेश में कोरोना की दूसरी लहर में अब तक 110 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हो चुके है। यह स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 वार्ड में मरीजों का इलाज कर रहे है। फिलहाल, सभी संक्रमित स्वास्थ्यकर्मियों को संस्थान में ही क्वारंटाइन किया गया है। सबसे अच्छी बात ये है कि इन तमाम स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण किया जा चुका है।

एम्स निदेशक प्रोफेसर रविकांत ने जानकारी देते हुए बताया है कि एम्स ऋषिकेश में कोरोना की दूसरी लहर में अब तक 110 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हो चुके है। जिसमें डॉक्टर,नर्स समेत दूसरे स्वास्थ्यकर्मी शामिल है। उन्होंने बताया कि ये सभी स्वास्थ्यकर्मी कोविड वार्ड कार्यरत थे, जिसकी वजह से मरीजों के सीधे संपर्क में वे रहते थे।

प्रोफेसर रविकांत ने आगे यह भी बताया कि एम्स के चार वार्ड में छह सौ से अधिक कोविड पॉजिटिव मरीज भर्ती है। इन सभी मरीजों की देखभाल के लिए ये स्वास्थ्यकर्मी रातदिन जुटे है। उन्होंने बताया कि एम्स में सात सौ रेजिडेंट डॉक्टर, करीब छह सौ मेडिकल छात्र, 1500 नर्स, 500 सुरक्षाकर्मी, 600 सफाईकर्मी समेत करीब चार हजार कर्मचारी तैनात है। आपको बता दें कि राजकीय चिकित्सालय के सीएमएस डा.विजयेश भारद्वाज भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

उत्तराखंड में अब तक 3548 की मौत

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण के मामले उत्तराखंड में भी तेजी के साथ फैल रहे हैं। राज्य में शनिवार को 8390 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 118 संक्रमितों की मौत हुई है। वहीं, 4771 ठीक हुए हैं। प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढकर 238383 हो गया है। हालांकि, इनमें से 158903 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 71174 केस एक्टिव हैं, जबकि 3548 की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 4758 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में ऑक्सीजन व दवाओं के वितरण के लिए राष्ट्रीय टास्क फोर्स का किया गठन

पूरे देश की बात करें तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में भारत कोरोना संक्रमण के 4,01,078 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही देश में अब कुल 2,18,92,676 लोग संक्रमित हो चुके हैं। जबकि इसी समयावधि में 3,18,609 डिस्चार्ज हुए हैं, जिसके बाद डिस्चार्ज किए गए कुल मरीजों की संख्या 1,79,30,960 हो गया है।

देशभर में पिछले 24 घंटों में 4,187 लोगों की मौत हुई है, जिसके बाद देश में मरने वालों की कुल संख्या 2,38,270 हो गई है। वर्तमान में भारत में 37,23,446 सक्रिय कोरोना वायरस मामले हैं। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देशभर में तेजी के साथ टीकाकरण अभिया को आगे बढ़ाया जा रहा है। 7 मई तक देश में 16,73,46,544 टीकाकरण की खुराक दी जा चुकी है।

coronavirus cases
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned