पद्मनाभस्वामी मंदिर से गायब 12 बेसकिमती हीरे मिले, जल्द बरामद होंगे बाकी के लापता आभूषण

Rahul Chauhan

Publish: Sep, 16 2017 05:42:00 (IST) | Updated: Sep, 16 2017 05:44:20 (IST)

Miscellenous India
पद्मनाभस्वामी मंदिर से गायब 12 बेसकिमती हीरे मिले,  जल्द बरामद होंगे बाकी के लापता आभूषण

तिरुवनंतपुरम में प्रसिद्ध श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर से गायब 12 बहुमूल्य हीरे बरामद हो गए हैं।

तिरुवनंतपुरम: तिरुवनंतपुरम में प्रसिद्ध श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर से लापता हुए करोड़ों रुपए के लगभग 12 हीरे एक विशेष जांच दल द्वारा मंदिर परिसर से ही बरामद किए गए हैं। ये बहुमूल्य हीरे भगवान श्री पद्मनाभ की मूर्ति के आभूषणों का हिस्सा हैं।

जांचकर्ता ने कहा कि प्राथमिक मूल्यांकन के मुताबिक, यह चोरी का मामला नहीं था और यह भी मान लिया था। एक वरिष्ठ क्राइम ब्रांच के अधिकारी के अनुसार, बरामद 26 हीरे जवाहरात का हिस्सा थे, जो साल भर पहले मंदिर से गायब हो गए थे। अधिकारी ने बताया कि इन हीरों के अलावा जांच दल ने निरीक्षण के दौरान कुछ अन्य कीमती वस्तुओं की भी जांच की थी।

बरामद हीरे करोड़ों रुपए मूल्य के हैं लेकिन उनके सटीक मूल्य की गणना नहीं की गई है। अधिकारी ने कहा, जांच चल रही है और शेष लापता जवाहरात जल्द ही बरामद किए जा सकते हैं। भगवान पद्मनाभ को समर्पित विशाल मंदिर ने चारों तरफ भूमिगत तहखाने का निरीक्षण करते हुए मीडिया का ध्यान रखा है। निरीक्षण के दौरान सैकड़ों करोड़ रूपये के सोने के गहने, जवाहरात, ज्वेलरी और कीमती पत्थरों का पता चला है।

18वीं शताब्दी में त्रावणकोर रॉयल हाउस द्वारा मंदिर का पुनर्निर्माण किया गया था जिसने 1947 में भारतीय संघ के साथ रियासत के एकीकरण से पहले दक्षिणी केरल और तमिलनाडु के कुछ आसन्न हिस्सों पर शासन किया था। आजादी के बाद भी, यह मंदिर पूर्वी शाही परिवार द्वारा नियंत्रित ट्रस्ट द्वारा संचालित रहा जिनके लिए भगवान पद्मनाभ (विष्णु) उनके परिवार के देवता हैं।

एक बहस भी चल रही है कि क्या मंदिर की तिजोरी 'बी' को खोलना है, जिसकी सामिग्री गुप्तता में छिपी हुई है। श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त एमीकस क्यरी गोपाल सुब्रह्मण्यम ने हाल ही में शाही परिवार और अन्य अधिकारियों से इस मामले पर अपनी राय देने के लिए मुलाकात की थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned