गुजरात: अस्पताल में भर्ती हार्दिक पटेल के अनश्न का आज 15वां दिन, सरकार की चुप्पी से उठे सवाल

गुजरात: अस्पताल में भर्ती हार्दिक पटेल के अनश्न का आज 15वां दिन, सरकार की चुप्पी से उठे सवाल

तबीयत बिगड़ने से बीस किलो वजन कम हुआ है।

अहमदाबाद। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के अनिश्चितकालीन अनश्न का आज 15वां दिन है। 15वें दिन अस्पताल से ही अनशन किया जा रहा है। बता दें कि शुक्रवार को हार्दिक पटेल की तबीयत बिगड़ गई थी। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शुक्रवार को ही हार्दिक ने अस्पताल से ही ट्वीट कर कहा कि अनश्न जारी रहेगा। उन्होंने ट्वीट किया, “मेरा अनिश्चतकालीन अनशन जारी है और हमारी मांगों को माने जाने तक जारी रहेगा। मुझे ग्लूकोज चढ़ाया जा रहा है। मैं अब भी खाना और पानी नहीं ले रहा हूं। मैं संघर्ष करूंगा लेकिन झुकूंगा नहीं।

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की हालत बिगड़ी, अनशन के 14वें दिन भेजे गए अस्पताल

 

दबाव में सरकार!

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति ने कहा था कि, "हार्दिक अस्पताल से अनशन जारी रखेंगे। हार्दिक पटेल पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के नेतृत्वकर्ता हैं। समिति के प्रवक्ता मनोज पनारा ने बताया कि स्वास्थ्य बिगड़ने पर समर्थकों के अनुरोध पर हार्दिक सोला सिविल अस्पताल में भर्ती होने के लिए तैयार हो गए। उन्होंने बताया कि पार्टी ने गुजरात सरकार को अनशन कर रहे नेता से बातचीत करने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया था और उसके समाप्त होने पर हार्दिक ने गुरुवार को पानी पीना भी बंद कर दिया है। साथ ही उन्होंने पाटीदार आरक्षण और किसानों के कर्ज माफ के बारे में कहा कि आंदोलन जारी हेगा क्योंकि राज्य की भाजपा सरकार ने इन मुद्दे पर पर गैर-प्रतिबद्ध थी।उल्लेखनीय है कि भाजपा सरकार की नाक में दम करने वाले हार्दिक पटेल 25 अगस्त को अनशन पर बैठे थे। किसानों की कर्ज माफी और सरकारी नौकरियों एवं शिक्षा के क्षेत्र में ओबीसी वर्ग के तहत पाटीदार समुदाय के लिये आरक्षण की मांगों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। उनका करीब बीस किलो वजन भी घट गया है। वहीं गत मंगलवार को गुजरात में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार ने गांधीनगर में पाटीदार समुदाय के कई नेताओं के साथ बैठक की थी। साथ ही शत्रुघ्‍न सिन्‍हा और यशवंत सिन्‍हा ने भी हार्दिक पटेल से मुलाकात की। बता दें कि हार्दिक ने अनश्न के दौरान ट्वीट कर कहा था कि अगर मेरी मौत भी हो जाएगी तो बीजेपी को क्या फर्क पड़ेगा?

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned