ऑपरेशन ऑलआउट के तहत हो रहा है आतंकियों का काम तमाम, 7 दिन में 16 दहशतगर्द ढेर

रविवार को सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में 6 आतंकी मारे गए।

श्रीनगर। घाटी में फैली शांति को बहाल करने के लिए सुरक्षा बल दिन रात लगे हुए हैं, लेकिन आतंकी अपने नापाक करतूतों से बाज नहीं आ रहे हैं। जम्मू कश्मीर में हमारे सुरक्षा बल उनके मंसूबों पर पानी फेर रहे हैं। हमले नाकाम कर किये जा रहे हैं। आतंकियों को जमींदोज कर रहे हैं। लगातार दहशतगर्द और सुरक्षाबलों के बीच एनकाउंटर की खबरें आ रही हैं, जिसमें आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई। आप को बता दें कि शोपियां जिले में रविवार को सुरक्षा बलों और दहशतगर्दों के बीच मुठभेड़ हुई। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में 6 आतंकी मारे गए हैं। पिछले कुछ दिनों में आतंकियों की शामत आई हुई है और सुरक्षा बल उनपर भारी पड़ रहे हैं।

जम्मू कश्मीर: शोपियां में आतंकियों के साथ मुठभेड़ जारी, 6 आतंकियों को घेरा

 


पिछले 7 दिन में 16 आतंकी ढेर

रविवार ( 25 नवंबर ) को शोपियां एनकाउंटर में 6 आतंकी ढेर हो गए। मारे गए आतंकियों में लश्कर-ए-तैयबा का जिला कमांडर मुस्ताक मीर शामिल है। इससे पहले गुरुवार ( 22 नवंबर ) को अनंतनाग के बिजहेड़ा में सुरक्षाबलों ने 6 आतंकी मार गिराए। ढेर हुए आतंकियों की पहचान आजाद मलिक, यूनिस शफी, शाहीद बशीर, बासित इश्तियाक, अकीब नजर, और फिरदौस नजर के रूप में हुई। आजाद मलिक पत्रकार सुजात आलम की हत्या का आरोपी भी था। वही बीते सोमवार ( 19 नवंबर ) को शोपियां जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के 4 आतंकवादी मारे गए थे और सेना का एक जवान शहीद हो गया था।

 

Terrorist

200 से ज्यादा आतंकी मारे गए
इस साल में अभी तक सुरक्षा बल और दहशतगर्दों के बीच हुई मुठभेड़ में दो सौ से अधिक आतंकी मारे गए। बता दें कि 200 का आंकड़ा पिछले साल 30 नवंबर को पहुंचा था। बता दें कि सेना ने आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलआउट चला रखा है। जिसके तहत भारत की तरफ गंदी निगाह रखने वालों का सफाया किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि दक्षिण कश्मीर में सबसे ज्यादा लोगों ने हथियार उठाए हैं, यहां के निवासी की हाल ही में अधिक मारे गए हैं।

Show More
Saif Ur Rehman
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned