मेट्रो सर्विस शुरू होने के बाद बढ़ा COVID-19 का कहर, इतने कर्मी निकले कोरोना पॉजिटिव

  • देश में Coronavirus का कहर लगातार जारी
  • 28 मेट्रो कर्मी COVID-19 पॉजिटिव, सरकार और प्रशासन की बढ़ी चिंता

नई दिल्ली। पूरा देश इन दिनों कोरोना वायरस ( coronavirus ) की चपेट में है। इस महामारी को रोकने और उसकी चेन को तोड़ने के लिए देश में कई सारी पाबंदियां और लॉकडाउन जारी है। हालांकि, Unlock के तहत देश को दोबारा पटरी पर लाया जा रहा है। लेकिन, कोरोना संक्रमितों के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं। Unlock 4.0 में मेट्रो सर्विस ( Metro Services ) को भी दोबारा शुरू किया गया था। वहीं, अब खबर आ रही है कि बेंगलुरु मेट्रो सर्विस शुरू होने के बाद काफी कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिन्हें आइसोलेशन में रखा गया है। लेकिन, इस खबर ने सरकार और प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है।

पढ़ें- School reopen guidelines : राज्य सरकारों को मिली 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों को खोलने की इजाजत, माता-पिता की सहमति अनिवार्य

28 मेट्रो कर्मी कोरोना पॉजिटिव

जानकारी के मुताबिक, बेंगलुरु मेट्रो सर्विस को Unlock 4.0 में सात सितंबर से दोबारा शुरू किया गया था। तब से लेकर अब तक 28 कर्मी कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) पाए गए हैं। BMRCL के एक अधिकारी का कहना है कि जब से दोबारा मेट्रो सर्विस की शुरुआत हुई है तब से हमारे 28 कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अधिकारी ने बताया कि सभी कर्मियों को आइसोलेशन में भेज दिया गया है। आशंका जताई जा रही है कि अभी और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए जा सकते हैं। वहीं, इस खबर से सरकार और प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। इधर, पश्चिम बंगाल सरकार ने भी मेट्रो सर्विस को नियमित बहाल करने की घोषणा की है। रिपोर्ट के अनुसार, चार अक्टूबर से रविवार को भी मेट्रो सर्विस शुरू हो जाएगी। यहां आपको बता दें कि कोलकाता मेट्रो ने 14 सितंबर से दोबारा मेट्रो का परिचालन शुरू किया था।

पढ़ें- Active Covid-19 Cases in India: दो दिन गिरावट के बावजूद सितंबर में 41 फीसदी ज्यादा रहे नए मामले

सात सितंबर से दोबारा मेट्रो सर्विस शुरू

गौरतलब है कि COVID-19 और लॉकडाउन के कारण तकरीबन पांच महीने तक मेट्रो सर्विस बंद थी। लेकिन, Unlock 4.0 में सात सितंबर से मेट्रो सर्विस का दोबारा परिचालन शुरू हो गया। दिल्ली मेट्रो ने भी चरणबद्ध तरीके से मेट्रो का परिचालन शुरू किया। हालांकि, अभी यात्रा के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना अनिवार्य है। सोशल डिस्टेंसिंग, फेस मास्क लगाना भी अनिवार्य है। दिल्ली मेट्रो ने कहा था कि जो भी यात्री कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके बावजूद मेट्रो यात्री और कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं। जिसके कारण चिंता बढ़ रही है। अब देखना ये है कि इस मामले में सरकार और प्रशासन आगे क्या निर्णय लेती है।

coronavirus
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned