शताब्दी एक्सप्रेस का खाना खाकर एक साथ 33 यात्री गंभीर रूप से बीमार, कईयों को कराया गया हॉस्पिटल में भर्ती

VVIP ट्रेन का खाना खाकर 33 यात्री गंभीर रूप से बीमार हो गए हैं।

नई दिल्ली। ट्रेन में खाने की गड़बड़ी को लेकर अक्सर शिकायतें आती रहती है। अभी हाल में टॉयलेट की पानी से चाय बनाने का मामला सामने आया था। इसके अलावा कई VIP ट्रेन में भी खाने की गड़बड़ी को लेकर यात्रियों की ओर शिकायत कराई गई है। लेकिन, ताजा मामला सबसे ज्यादा चौंकाने वाला है। क्योंकि, इस ट्रेन का खाना खाने से एक साथ 33 यात्री गंभीर रूप से बीमार हो गए। इतना ही नहीं कुछ लोगों को तो हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा।

एक घंटे रोका गया ट्रेन

दक्षिण पूर्वी रेलवे के मुख्य जन संपर्क अधिकारी संजय घोष ने बताया कि कोलकाता जा रही 12278 पुरी-हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस में बुधवार को नास्ता खाने के बाद करीब 33 यात्री कथित तौर पर गंभीर रूप से बीमार हो गए। उनका कहना था कि करीब एक घंटे ट्रेन को रोककर बीमार यात्रियों में से 14 को बेचैनी और उल्टी की शिकायत के कारण कुछ समय के लिए हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। उन्होंने बताया कि ट्रेन के पश्चिम मिदनापुर जिले के बेल्दा स्टेशन पहुंचने पर शुरुआत में दो यात्रियों ने उल्टी और बेचैनी की शिकायत की। यात्रियों को देखने के लिए आनन-फानन में एक डॉक्टर बुलाया गया। बाद में 15 यात्रियों में इसी प्रकार की शिकायत पाई गई।

अलग-अलग यात्रियों की अलग-अलग शिकायत

जन संपर्क अधिकारी संजय घोष ने बताया कि खगड़पुर स्टेशन पर करीब एक घंटा ट्रेन को रोककर पीड़ित यात्रियों का उपचार किया गया। वहीं, पीड़ित यात्रियों ने अधिकारी को बताया कि भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम द्वारा पड़ोसे गए भोजन खाने के बाद वे बीमार पड़ गए। एक अन्य यात्री का कहना था कि भुवनेश्वर से ट्रेन के प्रस्थान करने के बाद पड़ोसे गए आमलेट और ब्रेड खाने से उनकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी और काफी अस्वस्थ महसूस करने लगे।

जांच के लिए भेजा गया सैंपल

जन संपर्क अधिकारी संजय घोष के मुताबिक, आइआरसीटी के भोजन के नमूने जांच के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आने बाद ही इस संबंध में कुछ बताया जा सकता है। हालांकि, उनका यह भी कहना था कि ट्रेन के करीब 500 यात्रियों को भी वही खाना दिया गया था। लेकिन, सभी यात्रियों ने शिकायत नहीं की है।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned