350 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलेगी अपनी बुलेट ट्रेन शिलान्यास 14 को

14 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे अहमदाबाद में इस हाई स्पीड रेल प्रोजेक्ट का शिलान्यास करेंगे।

By:

Updated: 11 Sep 2017, 07:42 PM IST

नई दिल्ली: मुंबई-अहमदाबाद के बीच हाईस्पीड बुलेट ट्रेन 2022 तक पटरियों पर दौडऩे लगेगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया कि 2023 में पूरा होने वाला यह प्रोजेक्ट समय से एक साल पहले पूरा हो जाएगा। 14 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबी अहमदाबाद में इस प्रोजेक्ट की नींव रखेंगे।

देखें वीडियो

एक लाख आठ हजार करोड़ रूपये के इस प्रोजेक्ट में 81 फीसदी खर्च जापान कर रहा है। जमीन अधिग्रहण और अन्य प्रक्रिया भी जल्द ही शुरू हो जाएगी। पीयूष गोयल ने कहा कि इस प्रोजेक्ट की शुरूआत होने से मेक इन इंडिया को बढ़ावा मिलेगा और भारत के विकास में तरक्की होगी। उन्होंने कहा कि जापान ने इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए 2023 तक का समय मांगा था लेकिन 15 अगस्त 2022 को इसे पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है।


यूपीए सरकार की है यह योजना
मुंबई-अहमदाबाद के बीच हाई स्पीड ट्रेन चलाने का फैसला यूपीए सरकार के दौरान लिया गया था। दिसंबर 2013 में सरकार ने जापान की कंपनी को इस प्रोजेक्ट के लिए सलाहकार नियुक्त किया। भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में अपने घोषणापत्र में बुलेट ट्रेन चलाने का वादा किया था। दिसंबर 2015 में कैबिनेट ने इसे मंजूरी प्रदान की।

प्रोजेक्ट की खास बातें
- मुंबई अहमदाबाद के बीच 508 किलोमीटर की दूरी दो घंटे सात मिनट में तय किया जाएगा।
- मुंबई, विरार, वापी, वडोदरा, सूरत, अहमदाबाद, सहित कुल 12 स्टेशन बनाए जाएंगे।
- ट्रेन की अधिकतम रफ्तार 350 किलोमीटर प्रति घंटा होगी
- महाराष्ट्र में 156 और गुजरात में 351 किलोमीटर होगा रूट
- 21 किलोमीटर का सबसे लंबा टनल और 7 किलोमीटर समुद्र के नीचे से होगा रूट
- 20 हजार लोगों को निर्माण के समय मिलेगा रोजगार
- चार हजार लोगों को स्थायी तौर पर रोजगार

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned