पाक ने फिर जाहिर किए नापाक इरादे, सीमा पर फायरिंग में चार जवान शहीद

Siddharth Priyadarshi

Publish: Jun, 13 2018 08:00:55 AM (IST)

इंडिया की अन्‍य खबरें
पाक ने फिर जाहिर किए नापाक इरादे, सीमा पर फायरिंग में चार जवान शहीद

जम्‍मू कश्‍मीर के सांबा के चमलियाल सेक्टर में बीएसएफ की चमलियाल पोस्‍ट पर पाकिस्तान की तरफ से की गई फायरिंग में तीन ऑफिसर और एक जवान शहीद हो गए हैं

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से सीज फायर तोड़ने की एक और घटना हुई है। जम्‍मू कश्‍मीर के सांबा के चमलियाल सेक्टर में बीएसएफ की चमलियाल पोस्‍ट पर पाकिस्तान की तरफ से की गई फायरिंग में तीन ऑफिसर और एक जवान शहीद हो गए हैं। इसके अलावा बीएसएफ के एक असिस्टेंट कमांडेंट गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, जिनका गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज जम्मू में इलाज चल रह है। खबरों के मुताबिक दो अन्य जवानों को भी गोली लगी है।

पाक के नापाक इरादे

खबरों के मुताबिक जम्‍मू कश्‍मीर के सांबा में बीएसएफ की चमलियाल पोस्‍ट पर पाकिस्‍तानी रेंजर्स की ओर से देर रात फायरिंग शुरू कर दी गई। इस हमले में बीएसएफ के असिस्‍टेंट कमांडेंट जतिंदर सिंह, असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर राम निवास और जवान हंस राज शहीद हो गए।

कश्मीर सुपर 30: भारतीय सेना ने शुरू की युवाओं के लिए मेडिकल की मुफ्त कोचिंग

बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर हाल के दिनों में संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाओं में लगातार तेजी आई है। 29 मई को भारत और पाकिस्तान के बीच डीजीएमओ स्तर की बातचीत हुई थी। इस समझौते में जिसमें 2003 के संघर्ष विराम समझौते को लागू करने पर सहमति बनी थी लेकिन लगता है पाकिस्तान सभी समझौतों का माखौल उड़ाने पर लगा हुआ है।

भारत का मुंह-तोड़ जवाब

बीएसएफ ने बताया है कि भारत की ओर से पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब दिया जा रहा है। बीएसएफ ने मशीनगनों और मोर्टारों से सरहद पार की पाकिस्तानी पोस्टों को निशाना बनाया है। जिसमें पाकिस्तान को भारी नुकसान पहुंचा है।

सीजफायर की सहमति के बाद भी फायरिंग

हाल के दिनों में भारत और पाकिस्तान सीज फायर जरी रखने पर सहमत हो गए थे। भारत की ओर से डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान और पाकिस्तान की ओर से मेजर जनरल साहिर शमशाद मिर्जा के बीच बातचीत के बाद दोनों देशों ने कहा कि 2003 के संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह से लागू किया जाएगा। बातचीत में दोनों डीजीएमओ सीमा पर संयम रखने और स्थानीय कमांडरों की फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तंत्र के जरिए हल करने पर भी सहमत हुए थे।लेकिन पाकिस्तान द्वारा सीज फायर तोड़ने के बाद यह स्पस्ट हो गया है कि वह इस समझौते को लेकर बिलकुल गंभीर नहीं है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned