काला हिरण के अलावा इन मामलों में भी आरोपी हैं सलमान, काटने पड़ रहे हैं कोर्ट के चक्कर

काला हिरण के अलावा इन मामलों में भी आरोपी हैं सलमान, काटने पड़ रहे हैं कोर्ट के चक्कर

सीजेएम कोर्ट ने काला हिरण मामले की सुनवाई 28 मार्च को पूरी कर ली थी और फैसला सुरक्षित रख लिया था।

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान का विवादों से पुराना नाता रहा है। सलमान खान को काला हिरण मामले में तो दोषी करार दे दिया गया है। सलमान के अलावा इस केस में सैफ अली खान , अभिनेत्री नीलम, सोनाली और तब्बु आरोपी थे, उन सभी को कोर्ट ने बरी कर दिया है। सीजेएम कोर्ट ने काला हिरण मामले की सुनवाई 28 मार्च को पूरी कर ली थी और फैसला सुरक्षित रख लिया था। आज इस पर फैसला हो जाएगा कि सलमान को सजा होगी या वह बरी हो जाएंगे?

काला हिरण के अलावा ये केस और चल रहे हैं सलमान पर
काला हिरण केस के अलावा भी सलमान खान कई और मामलों में भी लिप्त रहे हैं, जिनमें से कई मामलों में वो बरी भी हो चुके हैं। आइए उन मामलों के बारे में आपको बताते हैं जिनकी वजह से सलमान का अदालतों से काफी पुराना नाता रहा है।


घोड़ा फार्म हाउस केस:
अप्रैल 2006 में सीजेएम कोर्ट ने सलमान को इस मामले में 5 साल की सजा सुना दी थी। इस फैसले के खिलाफ सलमान हाईकोर्ट गए थे, जहां 2016 में हाईकोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया था। लेकिन राजस्थान सरकार ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

भवाद गांव केस
इस केस में सीजेएम कोर्ट ने 17 फरवरी 2006 को सलमान खान को दोषी करार देते हुए एक साल की सजा सुनाई थी, लेकिन हाईकोर्ट ने इस मामले में सलमान को बरी कर दिया। इस फैसले के खिलाफ भी राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

आर्म्स केस
सलमान खान के खिलाफ लंबित मामलों में ये केस सबसे अहम है। जोधपुर में 22 सितंबर, 1998 को सलमान खान के कमरे से पुलिस ने एक रिवॉल्वर और राइफल बरामद की थी। सलमान पर आरोप लगा था कि उन्होंने इस हथियार का इस्तेमाल शिकार में किया था। इसके बाद सलमान के खिलाफ आर्म्स एक्ट लगा था। 18 जनवरी 2017 को लोअर कोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया था। इसके खिलाफ भी हाईकोर्ट में अपील की गई है।

- इससे पहले सलमान खान पर जो बड़ा मामला चल रहा था वो हिट एंड रन का था, जिसमें दिसंबर 2016 में बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला आया था। हाईकोर्ट ने सलमान को सभी आरोपों से बरी कर दिया था। इससे पहले ट्रायल कोर्ट ने मई, 2015 में सलमान ख़ान को दोषी क़रार दिया था।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned